CBSE BOARD EXAM: 10वीं की परीक्षाएं रद्द , इंटरमीडिएट की परीक्षाएं स्थगित

कक्षा 10वीं के छात्रों को आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर अगली कक्षा में भेजा जाएगा। उन्होंने कहा अगर कोई छात्र मूल्यांकन से संतुष्ट नहीं है तो वह हालात सामान्य होने पर परीक्षा दे सकता है…
CBSE BOARD के 10 वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षाओं को लेकर बुधवार को पीएम मोदी और शिक्षा मंत्री निशंक के बीच बैठक के बाद आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में सरकार की तरफ से बड़ा ऐलान किया गया है। फैसले के अनुसार सरकार ने 10वीं की परीक्षा को रद्द करने का फैसला लिया है जबकि 12वीं की परीक्षा को टाल दिया गया है। 12 वीं की परीक्षा होने की स्थिति में छात्रों को 15 दिन पहले नोटिस दिया जाएगा।
इस मामले में शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने बताया कि, कक्षा 10वीं के छात्रों को आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर अगली कक्षा में भेजा जाएगा। उन्होंने कहा अगर कोई छात्र मूल्यांकन से संतुष्ट नहीं है तो वह हालात सामान्य होने पर परीक्षा दे सकता है।
शिक्षा मंत्रालय की तरफ से कहा गया है कि सीबीएससी बोर्ड की कक्षा 10वीं की परीक्षा रद्द कर दी गई है और 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं। कक्षा 10वीं के नतीजे बोर्ड द्वारा तैयार किए गए मापदंड के आधार पर तैयार किए जाएंगे। 12वीं कक्षा की परीक्षाएं बाद में होंगी, बोर्ड 1 जून को स्थिति की समीक्षा करेगा।
बता दें, CBSE की 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं 4 मई से होनी थीं. ऑल इंडिया स्टूडेंट एसोसिएशन भी 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं को टालने की मांग कर चुकी है. एसोसिएशन की तरफ से शिक्षा मंत्रालय को चिट्ठी लिखी गई है।
CBSE की बोर्ड परीक्षाओं में इस बार 30 लाख से ज्यादा स्टूडेंट शामिल होंगे। कोरोना महामारी के बीच परीक्षाएं कैंसिल करने को लेकर स्टूडेंट्स सोशल मीडिया पर #CancelBoardExam2021 कैंपेन भी चला रहे हैं।