लगातार दो गोल्ड मेडल जीतकर विनेश फोगाट बनी दुनिया की नंबर एक महिला पहलवान

भारत की शीर्ष महिला पहलवान विनेश फोगाट ने एक और शानदार प्रदर्शन करते हुए देश का मान बढ़ाया है। 26 वर्षीय विनेश ने लगातार दो अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल जीतकर रैंकिंग में जबरदस्त छलांग लगाई है। अब उनकी टोक्यो ओलंपिक की दावेदारी लगभग तय मानी जा रही है।
फोगाट ने माटियो पैलिकोन रैंकिंग कुश्ती सीरीज में जीत दर्ज करके लगातार दूसरे सप्ताह दूसरा गोल्ड मेडल जीता। इसके साथ ही उन्होंने अपने वजन वर्ग में फिर से नंबर-1 की रैंकिंग हासिल कर ली। इस टूर्नामेंट में उतरने से पहले विनेश तीसरे रैंक पर थी। शनिवार को गोल्ड मेडल जीतकर उन्होंने 14 अंक हासिल किए और शीर्ष पर काबिज हो गईं।

गौरतलब है कि वर्ल्ड चैंपियनशिप की ब्रॉन्ज मेडलिस्ट विनेश टोक्यो ओलिंपिक खेलों के लिए क्वॉलिफाइ करने वालीं एकमात्र भारतीय महिला पहलवान हैं। उन्होंने रोम रैंकिंग सीरीज में शनिवार को 53 किग्रा के फाइनल में कनाडा की डायना मैरी हेलन वीकर को 4-0 से हराया।
विनेश ने अपने सभी अंक पहले पीरियड में हासिल किए और दूसरे पीरियड में अपनी बढ़त बरकरार रखकर गोल्ड मेडल जीता। विनेश ने पिछले सप्ताह कीव में गोल्ड जीता था और इससे उन्हें यह विश्वास हो गया होगा कि ओलिंपिक के लिए उनकी तैयारियां सही चल रही हैं।
विनेश ने टूर्नमेंट में एक भी अंक नहीं गंवाया। उन्होंने तीन में से अपने दो मुकाबलों में प्रतिद्वंद्वी को चित किया। सरिता मोर ने शनिवार को 57 किग्रा में सिल्वर मेडल जीता था।