सपा से गठबंधन के सवाल पर बोले शिवपाल- छोटी पार्टी के साथ नहीं, बड़ी पार्टी से होगा गठबंधन

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर सियासी सरगर्मियां तेज हो गई हैं। बहुजन समाज पार्टी सोशल इंजीनियरिंग को धार देने में लगी है तो सपा मुस्लिम-पिछड़े गठजोड़ के जोड़ को और अधिक मजबूत करने में लगे हैं। अखिलेश यादव इसके साथ छोटी पार्टियों के दम पर भाजपा को हराने का सपना संजोए बैठे हैं तो कांग्रेस फिलहाल मौन है। कांग्रेस किसके साथ सियासी गठजोड़ करेगी अभी फिलहाल सामने नहीं आया है। इस बीच प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के मुखिया शिवपाल यादव का बड़ा बयान सामने आया है।
सपा के साथ गठबंधन की बात टाल गए शिवपाल
समाजवादी पार्टी से गठबंधन के एक सवाल पर उन्होंने कहा है कि वह किसी बड़ी पार्टी के साथ गठबंधन चाहते हैं। उनकी बात चल रही है जल्द ही सब स्पष्ट हो जाएगा। इसी के साथ उन्होंने यह भी कहा कि समान विचारधारा वाली पार्टियों के साथ गठबंधन से उन्हें कोई गुरेज नहीं है।
समान विचारधारा वाली पार्टियों को साथ आना होगा
शिवपाल यादव ने कहा है कि, समान विचारधारा वाली पार्टियों को एक साथ आना होगा तभी भाजपा को हराया जा सकता है। शिवपाल यादव ने इस बात का खुलासा नहीं किया कि उनकी पार्टी किस पार्टी के साथ गठबंधन करेगी। उन्होंने कहा, भाजपा को हराने के लिए सेक्यूलर पार्टियों को एक होना होगा।
भाजपा दोबारा सत्ता में नहीं आ सकती है
भाजपा को निशाने पर लेते हुए शिवपाल यादव ने कहा, भाजपा ने जब से सत्ता संभाली है प्रदेश के विकास का ग्राफ लगातार नीचे आता जा रहा है। उन्होंने कहा भाजपा राज में प्रदेश के उत्थान की कल्पाना नहीं की जा सकती है। उन्होने कहा, भाजपा लाख प्रयास कर ले लेकिन अब वह दोबारा सत्ता में कभी नहीं आ सकती है।
शिवपाल यादव ने की थी ये घोषणा
बता दें शिवपाल यादव ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा था, 2022 में सरकार बनने के बाद प्रदेश के हर घर के एक बेटा-बेटी को सरकारी नौकरी दिलवाएंगे। 250 यूनिट बिजली मुफ्त दी जाएगी। भाजपा पर आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा था, इसका हर नेता जनता को गुमराह करने में लगा है। भाजपा राज में भ्रष्टाचार चरम पर है।