राजद्रोह केसः कंगना बोलीं, ‘मैंने जब से देश हित में बात की है तो मेरे ऊपर अत्याचार किए जा रहे हैं’

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत को लेकर मुंबई की सियासत गर्म है। अक्सर शिवसेना और कंगना के बीच तीखी बयानबाजी सार्वजनिक तौर पर देखी जा सकती है। मुंबई पुलिस ने बीते दिनों कंगना रनौत पर राजद्रोह का केस दर्ज किया था, आज कंगना रनौत इसी केस में अपना बयान दर्ज कराने बांद्रा पुलिस स्टेशन पहुंची थीं। इस दौरान उनकी बहन रंगोली भी उनके साथ थीं।
इसके पहले बांबे हाईकोर्ट ने इस केस में 8 जनवरी तक कंगना को गिरफ्तार करने या परेशान न करने पर रोक लगा दी थी, कोर्ट ने कहा था कंगना खुद 8 जनवरी को अपना बयान दर्ज कराने पुलिस के सामने पेश हों और इस दौरान पुलिस उन्हें गिरफ्तार करने या परेशान करने की कोशश ना करे। इस केस की अगली सुनवाई 11 जनवरी को होगी।
पेशी के बाद कंगना ने एक वीडियो जारी कर पुलिस की कार्रवाई पर सवाल खड़े किए हैं। कंगना रनौत ने वीडियो के साथ कैप्शन में लिखा है, ‘मेरा मानसिक और भावनात्मक तौर पर उत्पीड़न किया गया था। अब मेरा शारीरिक उत्पीड़न भी हो रहा है। मुझे देश में कुछ जवाब चाहिए… मैं आप लोगों के लिए खड़ी हुई थी। अब वक्त है कि आप मेरे लिए खड़े हों… जय हिंद।
कंगना रनौत ने कहा, ‘मैंने जब से देश हित में बात की है तो मेरे ऊपर अत्याचार किए जा रहे हैं। यहां तक कि मेरा घर तोड़ दिया गया। किसानों के हित में बात करने के लिए भी मेरे ऊपर केस हुआ है। कोरोना के दौरान डॉक्टरों के हित में बात करने के लिए मेरी बहन रंगोली के ऊपर केस हुआ था। उस केस में मेरा नाम भी डाल दिया गया। उस वक्त मैं ट्विटर पर थी भी नहीं। उस केस को चीफ जस्टिस ने रिजेक्ट भी कर दिया था।