कन्हैया कुमार पर चलेगा देशद्रोह का मुकदमा, इस संगीत निर्देशक ने केजरीवाल पर दे दिया बड़ा बयान

दिल्ली सरकार ने राजद्रोह के 4 साल पुराने एक मामले में JNU छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार और 9 अन्य लोगों पर मुकदमा चलाने के लिए दिल्ली पुलिस को मंजूरी दे दी। दिल्ली सरकार के फैसले पर कन्हैया कुमार ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा इस देश के लोगों को मालूम होना चाहिए कि किस तरह से देशद्रोह जैसे कानून का दुरुपयोग किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अब इस केस को गंभीरता से लिया जाए, फास्ट ट्रैक कोर्ट में स्पीडी ट्रायल हो और टीवी वाली आपकी अदालत की जगह कानून की अदालत में न्याय सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने यह भी कहा कि न्याय व्यवस्था पर हमें पूरा भरोसा है।
हममे से कुछ बड़े जोखिम में हैं
जवाहर लाल नेहरु विश्वविद्यालय के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष और सीपीआई नेता कन्हैया कुमार और नौ अन्य लोगों के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा चलाए जाने दिल्ली सरकार ने मंजूरी दे दी। दिल्ली की आप सरकार द्वारा कन्हैया कुमार के खिलाफ मुकदमा चलाने की मंजूरी के बाद गायक और संगीत निर्देशक विशाल डडलानी ने आम आदमी पार्टी पर सवाल खड़े किए हैं। डडलानी ने ट्विट कर कहा है कि AAP ने सरकार की गलतियों की आलोचना करने वाले लोगों के रूप में शुरुआत की है। आप के अधिकांश समर्थक अब भी वही लोग हैं और वही काम करते हैं। हममें से कुछ, बड़े जोखिम में हैं।
डडलानी ने आप सरकार के फैसले को बताया गलत
डडलानी ने ट्विट में यह भी कहा है कि हम उस राजनीति परंपरा का भी तिरस्कार करते हैं जो महज वोट, छवि और फायदे को देखकर सही या गलत का फैसला करते हैं। उन्होंने कन्हैया कुमार सहित अन्य छात्रों के खिलाफ देशद्रोह चलाए जाने के फैसले की खबर को ट्विट करते हुए लिखा, यह सरासर गलत है।
इन पर चलेगा देशद्रोह का मुकदमा
गौरतलब है कि दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार ने शुक्रवार को कन्हैया कुमार, उमर खालिद, अनिबार्न भट्टाचार्य, मुजीब टैटू, खालिद भट, जामिया मिलिया इस्लामिया के पूर्व छात्रों उमैर गुल, पत्रकार बशारत अली के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा चलाने की मंजूरी दे दी। आरोपियों ने 9 फरवरी 2016 को एक जुलूस के नेतृत्व किया था और कार्यक्रम के दौरान जेएनयू कैंपस में कथित रूप से देश विरोधी नारे लगाए थे।
केजरीवाल जी आपने क्या सुना
दिल्ली सरकार के फैसले से खफा गायक और संगीत निर्देशक विशाल डडलानी ने कहा, कन्हैया कुमार गिरफ्तार होने से ठीक पहले क्या कर रहा था। आप खुद देखें मुझे बताएं कि क्या इसमें कोई देशविरोधी बात हो रही है या आप सुन रहे हैं।