कांग्रेस पर स्मृति इरानी का बड़ा हमला, कहा- 40 इंच का आलू उगाने वाला किसान कब से बन गया…

मेरठ में जनसभा को संबोधित करतीं केन्द्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति इरानी
केन्द्र सरकार के नए कृषि कानून को लेकर किसान सड़कों पर हैं। उनके इस आंदोलन को तमाम राजनीतिक पार्टियां समर्थन दे रही हैं। किसान राजनीतिक पार्टियों के दूरी बनाने का भरसक प्रयास कर रहे हैं लेकिन किसी नेतृत्व के अभाव में राजनीतिक पार्टियां किसानों का अगुआ बनने का प्रयास कर रही हैं। इन सब के बीच केन्द्र किसान आंदोलन को खत्म करने का भरसक प्रयास कर रही है लेकिन विपक्ष इस आंदोलन की आग में घी डालने का काम कर रहा है।
इधर किसान आंदोलन को लेकर कांग्रेस पर केन्द्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति इरानी ने बड़ा हमला बोला है। उन्होंने कहा, विपक्ष इस बात पर जोर दे रहा है कि जिसने इस कानून को बनाया है वह किसान नहीं है। लेकिन हम पूछना चाहते हैं जो 40 इंच का आलू उगाता है क्या वह किसान है? क्या सोनियां गांधी किसान हैं। दरअसल किसानों के लिए अगर कोई काम कर रहा है तो पीएम मोदी ही हैं।
एएनआई के अनुसार, स्मृति इरानी ने मेरठ में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, पीएम मोदी ने अपने कार्यकाल के दौरान किसानों को एमएसपी में 8 लाख करोड़ दिए जबकि यूपीए ने अपने 10 साल के कार्यकाल में महज 3.5 लाख करोड़ रुपए दिए हैं। सत्तारुढ़ दल होने के नाते यूपीए ने अपने कार्यकाल में आखिर किया क्या?
इससे पहले गुजरात के कच्छ में पीएम मोदी ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा था, किसान हितों को लेकर सरकार प्रतिबद्ध है। सरकार किसानों को बिचौलियों के जाल से मुक्त करना चाहती है लेकिन विपक्ष इस पर भ्रम फैलाकर सत्ता किसानों को बरगलाना चाहता है। उन्होंने किसानों को आर्थिक मदद देने की भी बात कही थी।