शिल्पा शिंदा ने #MeToo कैंपेन को बताया- बकवास

मनोरंजन डेस्क- आजकल सोशल मीडिया पर #MeToo यानी ‘मैं भी’ के हैशटैग के साथ कई महिलांए अपनी आपबीती सुना रही है। जिसमें उन्हे आम लोगों से लेकर सेलेब्रिटीज का सपोर्ट मिल रहा है। लेकिन वहीं इस मामले में बिग बॉश फेम शिल्पा शिंदे की अलग ही राय है। उन्होने ऐसी सभी चीजों को बकवास बताया है।

मीडिया को दिए एक इंटरव्यू में शिल्पा शिंदे ने इस पूरे अभियान को बकवास बताया है। उन्होंने कहा- ”आपको इसे मामले पर घटना के वक्त ही बोलना चाहिए था। ये बेहद सिंपल है। मुझे भी ये सबक मिला है। जब होता है तभी बोलो। बाद में बोलने का कोई फायदा नहीं है। ये सब व्यर्थ है।”

“वे कहती हैं, ”बाद में आपकी आवाज को कोई नहीं सुनेगा। सिर्फ कंट्रोवर्सी होगी और कुछ नहीं। घटना के वक्त बोलो, हां इसमें थोड़ी हिम्मत की जरूरत पड़ेगी। इंडस्ट्री में सब कुछ आपसी सहमति से होता है। ये एक लेन-देन की पॉलिसी है। इंडस्ट्री खराब नहीं है और ना ही अच्छी है। हर जगह ये सब चीजें होती हैं। मुझे नहीं पता लोग खुद ही क्यों इंडस्ट्री का नाम खराब कर रहे हैं? ये सब आप पर निर्भर करता है कि आप कैसे सामने वाले को रिएक्ट कर रहे हो।”

”आज महिलाएं जोर-शोर से आवाज उठा रही हैं। मैंने पहले भी कहा था कि इंडस्ट्री में रेप नहीं होता है, जबरदस्ती नहीं होती। जो भी होता है वे आपसी सहमति से होता है। अगर आप तैयार नहीं हो तो छोड़ दो। शिल्पा शिंदे को लगता है कि इस अभियान से समाज में कोई बदलाव नहीं आने वाला है।”