नागरिकता पर बवालः दिल्ली में विस्फोटक हुई स्थिति, CAA विरोधी और समर्थक आमने – सामने

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ बीते दो माह से ज्यादा वक्त से दिल्ली के शाहीन बाग में विरोध प्रदर्शन चल रहा है। जहां शाहीन बाग में चल रहे प्रदर्शन को खत्म कराने के लिए सुप्रीम कोर्ट नें वार्ताकारों को जिम्मेदारी सौंपी थी लेकिन चार दिनों तक चली वार्ता में कोई रास्ता निकलकर सामने नहीं आया। लेकिन अब CAA को लेकर दिल्ली की स्थिति विस्फोटक हो चली है। CAA-NRC के विरोध को लेकर दिल्ली के मौजपुरा इलाके में रविवार को विरोधी और समर्थक आमने- सामने आ गए। दोनों पक्षों में जमकर पत्थरबाजी हुई। इस घटना में कई लोगों को घायल होने की खबर है।
घटनास्थल पर भारी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात
दिल्ली के मौजपुरा मे में हुई पत्थरबाजी की घटना पर संयुक्त पुलिस आयुक्त आलोक कुमार ने बताया है कि पुलिस पर भी उपद्रवियों से पथराव किया, इसमें कई पुलिसवालों को भी चोटें आईं हैं। उन्होंने बताया कि अब स्थिति पर काबू पा लिया गया है, घटनास्थल पर भारी संख्या में पुलिसकर्मियों की तैनाती कर दी गई है।
मौजपुर-बाबरपुर मेट्रो स्टेशन के प्रवेश और निकास द्वार बंद
दरअसल CAA का विरोध करने वाले और CAA का समर्थन करने वाले दो गुट आमने- सामने आ गए। दोनों गुटों की ओर से पत्थरबाजी शुरु हो गई। स्थिति पर नियंत्रण करने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले दागने पड़े। वहीं मौजपुर इलाके में तनावपूर्ण स्थिति को देखते हुए दिल्ली मेट्रो ने मौजपुर-बाबरपुर मेट्रो स्टेशन के प्रवेश और निकास द्वार बंद कर दिए हैं।
सड़कें खुलवाने को लेकर दो पक्ष आमने सामने
बता दें CAA के खिलाफ शाहीन बाग के बाद जाफराबाद में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया। इस विरोध प्रदर्शन के खिलाफ CAA के समर्थक सड़कों पर उतर आए। इन समर्थकों से साथ भाजपा नेता कपिल मिश्रा और उनके समर्थक भी आ गए। उन्होंने जाफराबाद और चांद बाग में सड़कें खुलवाने की मांग करते हुए प्रदर्शन शुरू कर दिया और धरने पर बैठ गए। इसी दौरान पास की गली से कुछ लोग आए और कपिल मिश्रा और उनके समर्थकों पर पथराव कर दिया। इसके जवाब में कपिल मिश्रा के समर्थकों ने पथराव करने वालों का पीछा किया और जवाब में पथराव शुरु कर दिया। दोनों तरफ से पथराव का यह सिलसिला तकरीबन आधे घंटे चला।
CAA के विरोध में जाफराबाद मेट्रो पर महिलाओं का प्रदर्शन
जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के पास शनिवार रात को सैकड़ों की तादात में महिलाएं CAA-NRC के विरोध में सड़कों पर उतर आईं। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि जब तक केन्द्र सरकार CAA वापस नहीं लेती के सड़कों से नहीं हटेंगी। उनके इस विरोध प्रदर्शन के चलते शाहीन बाग-कालिंदी कुंज-सरिता विहार रोड, वजीराबाद-चांद बाग रोड और मौजपुर-जाफराबाद रोड बंद हो गया है।
तीन दिन बाद हमे मत समझाइएगा
भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने कहा कि उनकी तरफ से कोई पथराव नहीं किया गया है। दिल्ली पुलिस को तीन दिन का अल्टीमेटम देते हुए उन्होंने दिया कि अमेरिकी डोनाल्ड ट्रंप के जाने तक हम शांति से जा रहे हैं। इस दौरान सीएए के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों से जाफराबाद और चांद बाग की सड़कें खाली करवाइए, इसके बाद हमें मत समझाइएगा। हम आपकी भी नहीं सुनेंगे। अब सिर्फ तीन दिन हैं।
कपिल मिश्रा ने किया ट्विट
भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने इस विरोध प्रदर्शन पर ट्विट करते हुए कहा, दिल्ली में दूसरा शाहीन बाग नहीं बनने देंगे। इसके बाद उन्होंने दूसरा ट्विट किया जिसमें उन्होंने कहा, मौजपुर चौक पर जाफराबाद के सामने, कदम बढ़ा नहीं करते एड़ियां उठाने से, CAA वापस नहीं होगा सड़कों पर बीवियां बिठाने से।