प्रयागराज में निषादों से बोलीं प्रियंकाः सरकार बनी तो नदियों पर पारंपरिक पट्टा देंगी, दोबारा शुरु होगा पुश्तैनी काम

प्रयागराज में मछुआरों के बीच पहुंची कांग्रेस महासचिव और उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी ने एक बार फिर भाजपा सरकार को निशाने पर लिया है। उन्होंने कहा, केन्द्र और राज्य की भाजपा सरकार न तो गरीबों के लिए है न किसानों के लिए है। ये अपने उद्योगपतियों के लिए सारी योजनाएं बना रही है। वह भारत को इन्ही चार पांच लोगों को सौंपने का काम कर रही है।
प्रियंका गांधी ने कहा, सरकार कोई भी कानून देश के सभी नागरिकों के लिए बनाती हैं। लेकिन भाजपा सरकार ने ऐसा काम किया है जिससे गरीब और गरीब हो जाए और अमीर और अमीर बनता जाए। इससे सामाजिक समरसता खत्म हो जाएगी और समाज में वर्ग संघर्ष बढ़ जाएगा जो भारत के लिए घातक होगा।
महज 10 दिनों के भीतर प्रयागराज पहुंची प्रियंका गांधी निषादों के बीच पहुंची। यहीं पर कुछ दिन पहले पुलिसकर्मियों द्वारा अपराधियों की तलाश का आड़ में निषादों की नावों को तोड़ डाला था। हालांकि प्रशासन ने प्रियंका गांधी के पहुंचने से पहले की सभी टूटी नावों को दोबारा बनवा दिया।
रविवार को प्रयागराज के बसवार गांव में पुलिस उत्पीड़न की कहानी सुनीं। उन्होंने निषादों से नजदीकी बनाने के लिए उनके घर पर बैठीं, उनके यहां पानी भी पिया। इस दौरान उन्होंने बीते साल गंगा यात्रा की बात भी कही थी। उन्होंने कहा लोगों से पता चला आपके साथ पुलिस ज्यादती की दास्तां।
निषादों से बातचीत करते हुए उन्हें अपनापन का एहसास दिलाते हुए कहा, गंगा-यमिना के किनारे रहने वाले पर्यावरण को नुकसान नहीं पहुंचा सकते हैं। वह इसलिए कि इसी से उनके जीवन की डोर जुड़ी होती है। लेकिन उद्योगपति ऐसा नहीं सोचते हैं।
इस दौरान उन्होंने सरकार पर हमला बोला, उन्होने कहा, किसानों, गरीबों की समस्या को यह सरकार नहीं समझ रही है। उन्होंने कहा ्गर हमारी सरकार आई तो वह दोबारा नदियों पर पारंपरिक पट्टा दिलाने का काम करेंगी, उनके पुश्तैनी काम धंधों को चालू कराने का काम करेंगी।