सहारनपुर में बोलीं प्रियंका -किसानों का मजाक उड़ाने वाला देशभक्त नहीं हो सकता, सरकार बनी तो खत्म होंगे ये कानून

कांग्रेस सरकार ने हमेशा किसानों की मदद की है। हमारी सरकार सत्ता में आती है तो जो भी कानून बनेगे वह आपके मददगार होंगे, सरकार बनी तो इस कृषि कानून को खत्म किया जाएगा, पीएम मोदी के 56 इंच के सीने में एक छोटा सा दिल भी है, वह दिल देश के किसानों गरीबों और वंचितों के लिए नहीं बल्कि अपने खरबपति मित्रों के लिए धड़कता है…
कांग्रेस महासचिव और उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी ने एक बार फिर भाजपा पर जोरदार हमला बोला है। सहारनपुर में जय जवान, जय किसान अभियान का आगाज करते हुए प्रियंका गांधी ने कृषि कानूनों को लेकर भाजपा सरकार को पूंजीपतियों का मददगार बता दिया। अपने संबोधन के दौरान प्रियंका गांधी ने पीएम मोदी पर भी जोरदार हमला बोला, उन्होंने कहा पीएम मोदी के 56 इंच के सीने में एक छोटा सा दिल भी है, वह दिल देश के किसानों गरीबों और वंचितों के लिए नहीं बल्कि अपने खरबपति मित्रों के लिए धड़कता है।
उन्होंने कहा केन्द्र सरकार ने जो किसानों के लिए जो कृषि कानून बनाए हैं वह राक्षस रूपी कानून है। ये किसानों को मारना चाहते हैं। उन्होंने बड़ा बयान देते हुए कहा, भाजपा नेतृत्व पूंजीपतियों के लिए जमाखोरी के दरवाजे खोलेगा। अगर हमारी सरकार बनेगी तो इस कानून को खत्म कर दिया जाएगा।
प्रियंका गांधी ने अभियान का आगाज करते हुए कहा, कांग्रेस सरकार ने हमेशा किसानों की मदद की है। हमारी सरकार सत्ता में आती है तो जो भी कानून बनेगे वह आपके मददगार होंगे, आपके जीवन के साथ राजनीति नहीं की जाएगी। इस दौरान उन्होने पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू का भी जिक्र किया।
प्रियंका ने कहा, 1955 में जवाहरलाल नेहरू ने जमाखोरी के खिलाफ कानून बनाया था, लेकिन इस कानून को भाजपा सरकार ने खत्म कर दिया है। यह नया कानून ‘अरबपतियों’ की मदद करेगा और वह किसानों की उपज का मूल्य तय करेंगे। प्रियंका ने कहा कि किसानों को देशद्रोही कहने वाला और उसका मजाक उड़ाने वाला कतई देश भक्त नहीं हो सकता।
सहारनपुर किसान महापंचायत को संबोधित करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा, पीएम मोदी के दिल केवल अपने पूंजीपति मित्रों के लिए धड़कता है। उन्होंने रेलवे जैसे कई सार्वजनिक उपक्रम को बेच दिए जिसने देश के लाखों लोगों को रोजगार दिया था। उन्होने कहा अब देशवासियों को भाजपा पर भरोसा नहीं रह गया है।
प्रियंका ने गन्ना भुगतान को लेकर भी मोदी सरकार पर हमला बोला, उन्होने कहा, अभी तक किसानों का 15 हजार करोड़ रुपए का भुगतान नहीं किया गया। उन्होंने तंज करते हुए कहा, कि सरकार किसानों को भुगतान न कर 16 हजार करोड़ के जहाज खरीद लिए, इसके अलावा 20 हजार करोड़ रुपए संसद भवन के सुंदरीकरण के लिए खर्च कर दिए।
गौरतलब है कि कृषि कानूनों को विरोध करने के लिए कांग्रेस ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश में 21 फरवरी तक किसान आंदोलन से जुड़े 21 जिलों की 134 तहसीलों में किसान महापंचायत करने का निर्णय लिया है। आज इसकी शुरुआत प्रियंका गांधी ने सहारनपुर किसान महापंचायत से की है।