गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर परेड के दौरान मारे गए नवरीत सिंह के घर पहुंची प्रियंका गांधी, परिवार को बंधाया ढांढस

कांग्रेस महासचिव और उत्तर प्रदेश प्रियंका गांधी, रामपुर में ट्रैक्टर परेड के दौरान मारे गए किसान नवरीत सिंह के घर पहुंच गई हैं। इस दौरान उन्होंने मृतक के परिजनों को ढांढस बंधाया। नवरीत सिंह का आज अंतिम अरदास है जिसमें प्रियंका गांधी भी शामिल होंगी। उनके साथ यूपी कांग्रेस के कई बड़े नेता भी शामिल हैं।
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी गणतंत्र दिवस के दिन ट्रैक्टर रैली की हिंसा की भेंट चढ़े नवरीत सिंह किसान के परिजनों को सांत्वना देने रामपुर जा रही थीं। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का काफिला हापुड़ जिसे के गढ़मुक्तेश्वर नेशनल हाईवे-9 पर आपस में टकरा गए।
गनीमत रही कि इस हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ। दुर्घटना के बाद प्रियंका गांधी ने अपने साथ चल रहे काफिले के साथियों का हालचान जाना। इस दौरान उन्होंने अपनी गाड़ी की सफाई भी की। हालांकि वहां पर लोग मौजूद थे लेकिन उन्होंने अपना गाड़ी खुद साफ की।
इससे पहले प्रियंका गांधी रामपुर की सीमा में जीरो पॉइंट पर पहुंचने पर कांग्रेसियों ने स्वागत किया। पूर्व सांसद बेगम नूरबानो और पूर्व मंत्री नवाब काजिम अली ने स्वागत किया। वह यहां 26 जनवरी को ट्रैक्टर परेड के दौरान मृत किसान नवरीत सिंह के परिवार से मिलने जाएंगी। प्रियंका मृतक किसान की अंतिम अरदास में शामिल होने के लिए बिलासपुर के डिबडिबा गांव जा रही हैं।
किसान आंदोलन में 26 जनवरी को ट्रैक्टर परेड के दौरान जान  गंवाने वाले रामपुर के ग्राम डिबडिबा में नवरीत सिंह की अंतिम अरदास का कार्यक्रम जहां आयोजित किया गया उसके पास ही में बैनर लगाकर किसान विरोधी कानून पर साथ देने वाले मंत्री और विधायक व सांसदों का बहिष्कार करने का आह्वान किया गया।
गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई युवक नवरीत सिंह की मौत पर शोक जताने के लिए उत्तर प्रदेश के नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी और उत्तराखंड की नेता प्रतिपक्ष इंदिरा ह्रदयेश बिलासपुर के डिबडिबा गांव पहुंच चुके हैं।