सेंट्रल जेल में कैदी ने दूसरे कैदी की ईंट से की हत्या

फर्रूखाबाद– जेलों के अंदर हत्याओं का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। बागपत के बाद फर्रुखाबाद सेंट्रल जेल में आजीवन सजा भुगत रहे कैदी ने साथी कैदी सर ईंट से कुचलकर हत्या कर दी ।

सेन्ट्रल जेल में मौत के घाट उतारे गये कैदी गौरी शंकर की रिहाई आगामी 26 जनवरी को की जानी थी। उसका सूची में नाम भी था। लेकिन जेल से रिहाई के लगभग तीन महीने पूर्व ही गौरी शंकर की हत्या कर दी गयी। केंद्रीय कारागार फतेहगढ़ में कानपुर देहात के अकबर पुर् थाना क्षेत्र का रहने वाला 70 वर्षीय गौरी शंकर दहेज हत्या के आरोप में आजीवन सजा काट रहा था।

बुधवार की रात दोनों एक ही बैरक में सोये हुए थे। पड़ोस में लेटे कैदी चंद्रहास ने  लेटने वाले स्थान जो कि कच्ची ईंट से बने हुए है से  ईंट उखाड कर गौरी शंकर का सिर कुचल दिया। हत्यारोपित चंद्रहास फतेहपुर कोतवाली क्षेत्र का रहने वाला है। वह भी हत्या के मामले में आजीवन सजा काट रहा है। दोनों आपस में रिश्तेदार बताये जा रहे है। आनन फ़ानन लोहिया अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसकी हालत चिंता जनक बताते हुए  कानपुर के लिए रेफर कर दिया। कानपुर पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो गई।

मौजूदा समय में 2200 बन्दी सेंट्रल जेल में बंद है। जेल की बैरिको की दीवारे व् बंदियो के लेटने के ठिये कच्चे बने हुए है। इस बजह कैदी ने  ईंट उखाड़ कर घटना को अंजाम दिया। अपर पुलिस अधीक्षक त्रिभुवन सिंह  ने बताया कि मामले की जांच पड़ताल की जा रही है।