पीएम मोदी और सीएम योगी का जलवा बरकरार, जानिए अगले प्रधानमंत्री पद के लिए कौन है देश की पसंद

देश में प्रधानमंत्री मोदी का जलवा बरकरार है। कोरोना महामारी हो या फिर चीन की चुनौती, धारा 370 के खात्मे का सवाल हो या फिर तीन तलाक को खत्म करने की बात। पीएम मोदी के बोल्ड फैसलों ने देशवासियों को उनका मुरीद बना दिया है। हालांकि कई मामलों में पीएम मोदी की साख को थोड़ झटका जरुर लगा है लेकिन देश की जनता ने उन्हें सर्वकालिक सर्वश्रेष्ठ प्रधानमंत्र के तौर पर पसंद किया है। इस बात की पुष्टि इंडिया टुडे और कार्वी इनसाइट्स के सर्वे ने की है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता भले ही बरकरार है लेकिन देश अगले प्रधानमंत्री के तौर पर सीएम योगी लोंगों की दूसरी पसंद हैं। हालांकि इस दौड़ में भाजपा नेता अमित शाह को लोगों ने मोदी का स्थान लेने की क्षमता वाला बताया है।
सर्वे के मुताबिक अगर लोकसभा चुनाव मौजूदा वक्त में होते हैं तो एनडीए आसानी से सत्ता पर काबिज हो सकती है, और भाजपा सबसे बड़ी पार्टी के रूप में बहुमत हासिल कर लेगी।
सर्वे के मुताबिक 543 लोकसभा सीटों में से एनडीए को 43 फीसदी वोटों के साथ 321 सीटें मिल सकती हैं जबकि अकेले भाजपा को 37 फीसदी वोटों के साथ 291 सीटें हासिल होंगी।
सर्वे में इस बात को भी बताया गया कि सोनिया गांधी के नेतृत्व वाली यूपीए को 27 फीसदी वोटों के साथ 93 सीटें और अकेले कांग्रेस को 19 फीसदो वोटों के साथ 51 सीटें मिल सकती हैं। सर्वे की माने तो अन्य दलों को 30 फीसदी वोटों के साथ 129 सीटें मिल सकती हैं।
सर्वे में इस बात को कहा है कि देश की जनता ने पीएम मोदी को सर्वकालिक सर्वश्रेष्ठ पीएम के तौर पर पसंद किया है। 38 फीसदी लोगों ने नरेन्द्र मोदी को पीएम के रूप में पसंद किया है, उनके बाद 18 फीसदी वोटों के साथ अटल बिहारी वाजपेयी, 11 फीसदी वोटों के साथ इंदिरा गाधी और 8 फीसदी वोटों के साथ देश के पहले पीएम जवाहर लाल नेहरू को लोगों ने पसंद किया है।
सर्वे में लोगों से पूछा गया कि वह पीएम मोदी के किस काम से सबसे ज्यादा प्रभावित हैं। 23 फीसदी लोगों ने उनके काम को बेहतरीन बताया जबकि 50 फीसदी लोगों ने पीएम मोदी के काम को अच्छा बताया,18 फीसदी ने औसत और 7 फीसदी लोगों ने खराब बताया।
चीन की चुनौतियों को जिस तरह से भारत ने हैंडिल किया और जिस तरह से पीएम मोदी ने बिना किसी हिचकिचाहट के चीन की हर बात का जवाब दिया उसे 59 फीसदी लोगों ने पसंद किया। जबकि इसी मुद्दे को कुटनीतिक तरीके से हल करने के पीएम मोदी के प्रयासों को 56 फीसदी लोगों ने सराहा है।
सर्वे के अनुसार, गृह मंत्री अमित शाह को केवल आठ प्रतिशत लोग देश के अगले प्रधानमंत्री के तौर पर देखना चाहते हैं। इससे साफ है कि लोगों के बीच योगी की लोकप्रियता शाह से ज्यादा है। बता दें कि इसी सर्वे ने योगी आदित्यनाथ को देश का सबसे भरोसेमंद मुख्यमंत्री बताया है। उनके बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को लोगों ने पसंद किया है।
यह सर्वे कांग्रेस की दुर्दशा को भी दर्शाता है। प्रधानमंत्री पद के लिए देश के मात्र सात फीसदी लोगों ने राहुल गांधी को पसंद किया है। पांच फीसदी लोग केजरीवाल को,चार फीसदी लोग सोनिया गांधी और ममता बनर्जी जो। इसके अलावा देश के तीन फीसदी लोग प्रयंका को पीएम पद पर देखना चाहते हैं। दो प्रतिशत लोगों की पसंद मायावती, अखिलेश यादव, शरद पवार, उद्धव ठाकरे, नीतीश कुमार और नितिन गडकरी हैं।
मूड ऑफ दे नेशन पोल मार्केट रिसर्च कार्वी इनसाइट ने 3 जनवरी से 13 जनवरी के बीच 12,232 लोगों को सर्वे में शामिल किया। इसमें 67 फीसदी ग्रामीण और 33 फीसदी शहरी लोगों से सवाल किए गए। 19 राज्यों के 97 संसदीय क्षेत्र और 194 विधानसभा क्षेत्रों में सर्वे किया गया।