जो सिनेमा की ताकत समझता है वह हमेशा यादगार किरदार निभाना चाहता हैः जान्हवी कपूर

धड़क फिल्म से बॉलीवुड में बतौर एक्ट्रेस पदार्पण करने वाली जान्हवी कपूर ने कहा है, जो सिनेमा की ताकत को समझता है वह हमेशा यादगार किरदार निभाना चाहता है। गुंजन सक्सेनाः द कारगिल गर्ल में यादगार भूमिका निभाने के बाद उन्होंने कहा है कि एक व्यक्ति और कलाकार के तौर पर उनका कॉन्फिडेंस बढ़ा है।
यह फिल्म एक फ्लाइंग ऑफिसर गुंजन सक्सेना के जीवन पर आधारित है, 1999 के कारगिल युद्ध के दौरान वार जोन में लड़ाकू विमान उड़ाने वाली पहली महिला बनी थीं गूंजन सक्सेना। 23 वर्षीय जान्हवी ने 2018 में आई फिल्म ‘धड़क’ से बॉलीवुड में पदार्पण किया था।
जान्हवी ने कहा कि कोई व्यक्ति जो सिनेमा की ताकत को समझता है, वह हमेशा यादगार किरदारों को निभाना चाहता है। उन्होंने कहा, ‘इस फिल्म के माध्यम से, मैंने खुद को एक एक्ट्रेस के रूप में बेहतर ढंग से समझा है। इससे मुझे कॉन्फिडेंस की एक अलग अनुभूति हुई है और शायद यह गुंजन मैम की कहानी के प्रभाव के कारण हुआ है और इसका असर मुझ पर पड़ा है।’
जान्हवी ने एक बयान में कहा, ‘मैंने डेवलपमेंट के प्रोसेस का आनंद लेना सीखा है। मैं हमेशा यादगार काम करना चाहती हूं और लोगों के जीवन को छूना चाहती हूं, मुझे पता है कि सिनेमा ने मेरे जीवन को कितना छुआ है।’