विश्व हैंडवाश दिवस के मौके पर जिलाधिकारी ने लोगों को किया जागरूक

सीतापुर । स्वच्छता विशेष रूप से हाथों की समुचित सफाई से अनेक वैक्टीरिया जनित बीमारियों से बचा जा सकता है। खाने से पहले शौंच के बाद हाथों की साबुन से भलीभांति सफाई करने से अनेक बीमारियों से बचाव होता है।

आवश्यकता इस बात की है कि बच्चों, महिलाओं एवं ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को हाथों की सफाई के बारे में जागरूक किया जाये। इसी बात को ध्यान में रखकर आज सारी दुनिया में हैण्डवाश डे मनाया जा रहा है। जिलाधिकारी शीतल वर्मा ने आज कलेक्ट्रेट में विश्व हैण्डवाश दिवस के अवसर पर स्वयं अपने हाथों की साबुन से सफाई करते हुये यह बात कही।

उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायतों को खुले में शौंचमुक्त करने में स्कूलों एवं आंगनबाड़ी केन्द्र स्वच्छता का महत्वपूर्ण घटक है। इसलिये जनपद के सभी स्कूलों एवं आंगनबाड़ी केन्द्रों में बच्चों को हाथ धुलाई के बारे में प्रशिक्षित करने के निर्देश दिये गये हैं। ग्लोबल हैण्डवाश प्रत्येक विद्यालय में प्रार्थना के पश्चात कराये जाने के निर्देश दिये गये हैं। जिलाधिकारी ने कहा कि कार्यक्रम के तहत जरूरतमदों को हाथ धुलाई हेतु साबुन का वितरण किया जायेगा।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी संदीप कुमार, जिला विकास अधिकारी राकेश पाण्डे, परियोजना निदेशक डीआरडीए एके सिंह, स्वच्छ भारत मिशन की रितु तिवारी व जिला पंचायत राज अधिकारी उपस्थित रहे। सभी ने इस अवसर पर साबुन से अपने हाथ धोए। मुख्य विकास अधिकारी संदीप कुमार ने आज लालबाग चौराहे पर आयोजित हैण्डवाश कार्यक्रम में भाग लिया तथा लोगों को हाथों की सफाई के महत्व के बारे में जानकारी दी।