जनता कर्फ्यूः मिला भरपूर सहयोग,खुद घरों में कैद हुए लोग,सड़कें वीरान,दुकानों पर लटके ताले

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण से पूरा विश्व कराह रहा है। 186 देशों में फैले इस वायरस ने तकरीबन ढाई लाख से ज्यादा लोगों को अपनी चपेट में ले लिया है। हालांकि इस संक्रमण से तकरीबन 90 हजार लोगों को सुरक्षित निकला लिया गया है। कोरोनों के संक्रमण से पूरे विश्व में 17 हजार लोगों का मौत हो गई है। कोरोना के संक्रमण का अबतक सबसे ज्यादा असर इटली में देखने को मिला है। यहां शनिवार और रविवार के दरम्यान 800 लोगों की मौत हो गई है। इटली में अब तक साढ़े चार हजार लोग मौत के मुंह में समा गए हैं। इधर भारत में भी कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है। भारत में शनिवार देर रात तक के आंकड़ों की बात करें तो 325 लोग संक्रमित पाए गए हैं। भारत में इसकी वजह से फिलहाल चार मौतें हुई हैं। कोरोना वायरस से जंग जीतने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देशवासियों से रविवार को जनता कर्फ्यू में सहयोग की अपील की है। रविवार को उनकी अपील का जबरदस्त असर देखने को मिल रहा है।
पीएम मोदी ने शनिवार को एक बार फिर देशवासियों से अपील की कि वह जहां हैं कुछ दिन वहीं रहें। अगर वह अपने मूल निवास की तरफ प्रस्थान करने का इरादा है तो फिलहाल के लिए टाल दें। उनके ऐसा करने से वह खुद सुरक्षित रहेंगे और दूसरों को भी इस महामारी से बचा सकते हैं। उनकी इस अपील का पूरे देश ने समर्थन किया है। कुछ जगहों पर जहां CAA-NRC का विरोध प्रदर्शन चल रहा है उन्होंने पीएम मोदी की अपील नहीं मानी है। दिल्ली के शाहीन बाग और लखनऊ के घंटाघर पर विरोध प्रदर्शन पहले की तरह ही चल रहा है।
जनता कर्फ्यू के दौरान बेहद आवश्यक वस्तुओं के लिए दुकाने खुलेंगी। इन दुकानों में मेडिकल हॉल, राशन की दुकानें आदि। इसके अलावा देश भर की सभी दुकानों को बंद रखने का निर्देश दिया गया है। इसके अलावा बसों, हवाई जहाज और तमाम ट्रेनों को भी बंद रखा गया है। सरकारी और प्राइवेट कर्मचारियों को वर्क फ्राम होम करने के निर्देश जारी किए गए हैं।
आइए जानते हैं जनता कर्फ्यू में हमारे देशवासियों का क्या सहयोग है।।।
महाराष्ट्रः दादर रेलवे स्टेशन पर आज दूसरे दिनों के मुकाबले काफी कम भीड़ नज़र आई। यहां तैनात हेड कांस्टेबल विजय प्रताप ने बताया कि हम यहां आने वाले लोगों की आईडी देखेंगे अगर वो मेडिकल वाले हैं, डॉक्टर हैं तो हम उनको जाने देंगे नहीं तो बाहर भेज देंगे।
सलमान खान ने ट्विटर (Twitter) पर इसे लेकर एक वीडियो शेयर किया है। वह इस वीडियो में सख्ती से करोना से बचने के तरीके फॉलो करने की बात कहते दिखाई दे रहे हैं। सलमान इस मुश्किल दौर में लोगों की लापरवाही पर नाराज भी दिखे।
‘जनता कर्फ्यू’ का जबर्दस्त असर, राजस्थान में घरों में बंद हुए लोग, सड़कों पर सन्नाटा। जनता कर्फ्यू के दौरान उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में सड़कों पर सन्नाटा पसरा है। सारी दुकानें बंद हैं और लोग भी घरों में स्वत: बंद हैं। दिल्ली: जनता कर्फ्यू के दौरान वाहन चालकों को फूल देकर उनसे घर पर रहने की अपील करते पुलिस कर्मी।
जम्मू-कश्मीर: जनता कर्फ्यू के दौरान डोडा में सड़कें खाली नज़र आईं। इस दौरान जनता कर्फ्यू को सफल बनाने के लिए जम्मू-कश्मीर पुलिस ने लोगों से अपने घरों में ही रहने की अपील की।
उत्तर प्रदेश: जनता कर्फ्यू के दौरान मेरठ की सड़कें खाली नज़र आई। जनता कर्फ्यू आज रात 9 बजे तक रहेगा। प्रधानमंत्री ने इस दौरान लोगों से अपने घरों में रहने की अपील की है।
पश्चिम बंगाल: जनता कर्फ्यू के दौरान कोलकाता में खाली सड़कें, दुकानों पर लटके तालें और खाली जाती बसें।
उत्तर प्रदेश: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर आज देशभर में जनता कर्फ्यू का असर दिख रहा है, वाराणसी में जनता कर्फ्यू के दौरान खाली सड़कें।
पंजाब: लुधियाना में जनता कर्फ्यू के दौरान सड़कें खाली दिखीं। प्रधानमंत्री ने 19 मार्च को दिए अपने राष्ट्र के नाम संबोधन में देशवासियों से जनता कर्फ्यू में अपना सहयोग देने की अपील की थी।
लखनऊ: पुलिस कमिश्नर सुरजीत पांडेय कहते हैं, “लखनऊ में लोग आज प्रधानमंत्री के आह्वान पर पूरी तरह से सहयोग कर रहे हैं। कानून और व्यवस्था की स्थिति सुनिश्चित करने के लिए पुलिस तैनात है।”
कोरोना वायरस के चलते दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ चल रहे प्रदर्शन को बंद करने के लिए बार-बार मांग उठ रही है, लेकिन प्रदर्शनकारी धरना स्थल पर डटे हुए हैं। वहीं, रविवार को जनता कर्फ्यू के दौरान इस प्रदर्शन को हटाने की मांग को लेकर दो गुट आपस ही भिड़ गए। फिलहाल शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों मने सरकार की बात मानते हुए धरने का कम करने का फैसला लिया है। यहां पर केवल पांच प्रदर्शनकारी ही रहेंगे।