भारतीय पहलवान बजरंग ने दिखाया दमः गोल्ड जीतकर बने दुनिया ने नंबर एक पहलवान

भारतीय पहलवान बजरंग पुनिया ने माटियो पेलिकोन रैंकिंग कुश्ती प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीतकर अपने खिताब को बरकरार रखा है। उनकी इस जीत से उनके टोक्यो ओलपिंक जाने के रास्ते खुल गए हैं। बजरंग ने आखिरी 30 सेकेंड में जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए अपने वजन वर्ग मंगोलिया के तुल्गा तुमूर ओचिर को परास्त कर दिया और दो अंक बनाने के साथ ही उन्होंने स्वर्ण पर कब्जा कर लिया।
रविवार को हुए मुकाबले में भारतीय पहलवान ने अंतिम अंक बनाया था और इस आधार पर उन्हें विजेता घोषित कर दिया गया। बता दें भारतीय पहलवान इस प्रतियोगिता में अपने वजन वर्ग की रैंकिंग में दूसरे स्थान पर थे, लेकिन उन्होंने 14 अंक हासिल कर शीर्ष स्थान प्राप्त किया। ताजा रैंकिंग केवल इस टूर्नामेंट के परिणाम पर आधारित है और इसलिए स्वर्ण पदक जीतने वाला पहलवान नंबर एक रैंकिंग हासिल कर रहा है।
विशाल कालीरमण ने गैर ओलंपिक वर्ग 70 किग्रा में प्रभावित किया। उन्होंने कजाखस्तान के सीरबाज तालगत को 5-1 से हराकर कांस्य पदक जीता। इस बीच चार साल के डोपिंग प्रतिबंध के बाद प्रतिस्पर्धी कुश्ती में वापसी करने वाले नरसिंह पंचम यादव कांस्य पदक के मुकाबले कजाखस्तान के दानियार कैसानोव से हार गए।
भारत ने साल की इस पहली रैंकिंग सीरीज में सात पदक जीते। महिला वर्ग में विनेश फोगाट ने स्वर्ण और सरिता मोर ने रजत पदक जीता था। ग्रीको रोमन के पहलवान नीरज (63 किग्रा), कुलदीप मलिक (72 किग्रा) और नवीन (130 किग्रा) ने कांस्य पदक जीते थे।