बिहारः अपराधियों को ठिकाने लगाने के लिए विधायकों की योगी मॉडल अपनाने की मांग

बिहार में लगातार बढ़ रहे अपराध पर लगाम लगाने की मांग तेज होती जा रही है। अब सत्ताधारी पार्टी के विधायकों ने भी अपराध नियंत्रण को लेकर नीतीश सरकार को कटघरे में खड़ा करना शुरु कर दिया है। मंगलवार को इंडिगो एयरलाइंस के स्टेशन हेड रूपेश कुमार की गोली मारकर हत्या के बाद ये मांग और तेज हो गई है। इस हत्या के बाद तमाम राजनीति दलों ने सीएम नीतीश कुमार से अपराधियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है। खुद बिहार भाजपा विधायक ने बिहार में अपराधिय और अपराधियों पर नियंत्रण के लिए यूपी मॉडल अपनाने की बात कही है।
पटना के बांकीपुर सीट से भाजपा विधायक नितिन नवीन ने कहा है कि यूपी और बिहार की स्थितियों में कोई खास अंतर नहीं है। अपराधियों को अपराध करने के बाद भागने का मौका नहीं दे सकते हैं। भाजपा विधायक ने कहा अगर स्थितियां लगातार बिगड़ रही हैं, अपराधी बेलगाम हो रहे हैं का एनकाउंटर करना ही एक मात्र रास्ता है।
बुधवार को विधायक नितिन ने पटना के उस घटनास्थल का दौरा किया जहां पर इंडिगो एयलाइंस के स्टेशन हेड की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। घटनास्थल के निरीक्षण के दौरान विधायक ने खासी नाराजगी जताई थी।
विधायक ने इस दौरान यूपी का जिक्र करते हुए कहा, योगी सरकार ने जिस प्रकार संगठित अपराध करने वालों को ठिकाने लगाया है वह काबिले तारीफ है। अप अपराधी या तो यूपी छोड़ चुका है और मारा गया है। बिहार में भी यूपी के एनकाउंटर मॉडल को अपनाना चाहिए जिससे अपराधियों के दिलों में कानून का डर पैदा हो सके।
इससे पहले जन अधिकार पार्टी ने संरक्षक पप्पू यादव ने रूपेश कुमार की हत्या को लेकर नीतीश सरकार को निशाने पर लिया था। उन्होंने कहा, सीएम नीतिश अब किस बात की समीक्षा कर रहे हैं। उन्होंने कहा बिहार पुलिस को फ्री हैंड छोड़ देना चाहिए। उन्होंने कहा बिहार में अपराधियों के एनकाउंटर की जरुरत है।