IND VS AUS: रहाणे ने जड़ा शतक, ऑस्ट्रेलिया पर कसा शिकंजा, टीम इंडिया के 5 विकेट पर 277 रन

बॉक्सिंग डे टेस्ट के दूसरे दिन कप्तान आजिंक्य रहाणे ने शानदार बल्लेजाजी करते हुए 104 रनों की पारी खेली
एडिलेट टेस्ट मैच की तरह भारतीय गेंदबाजों ने मेलबॉर्न में खेले जा रहे बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच में भी जोरदार प्रदर्शन करते हुए पूरी ऑस्ट्रेलिया की टीम को 195 पर समेट दिया। गेंदबाजों के बाद अब भारतीय बल्लेबाजों ने भी कमाल दिखाया है। दूसरे टेस्ट मैच में कप्तानी कर रहे आंजिक्य रहाणे ने शानदार बल्लेबाजी का नमूना पेश करते हुए शतक जड़ा। रहाणे 104 रन बनाकर क्रिज पर डटे हैं। उनका साथ रवीन्द्र जडेजा दे रहे हैं। जडेजा ने भी 40 रनों पर खेल रहे हैं।
दूसरे दिन का खेल समाप्‍त होने तक टीम ने पहली पारी में पांच विकेट के नुकसान पर 277 रन बना लिए हैं और इसी के साथ मेजबान पर 82 रन की बढ़त भी हासिल कर ली है। रहाणे 104 और रवींद्र जडेजा 40 रन बनाकर खेल रहे हैं।

टीम इंडिया ने एक विकेट पर 36 रन से आगे खेलते हुए दूसरे दिन शुभमन गिल और चेतेश्‍वर पुजारा ने स्‍कोर 50 रन के पार पहुंचाया।हालांकि गिल और पुजारा के पवेलियन लौटने के बाद टीम लड़खड़ा गई थी, मगर रहाणे कप्‍तान की भूमिका निभाते हुए क्रीज पर टिके रहे और शतक जड़ दिया।
रहाणे का 12वां टेस्‍ट शतक है। रहाणे ने 195 गेंदों पर शतक जड़ा। इस दौरान उन्‍होंने 11 चौके जड़े। वह मेलबर्न में शतक जड़ने वाले दूसरे भारतीय कप्‍तान बन गए हैं। उनसे पहले 1999 में सचिन तेंदुलकर ने बतौर कप्‍तान इस मैदान पर शतक जड़ा थ। यही नहीं वह पाकिस्तान के मोहम्मद युसूफ (111) के बाद मेलबर्न में शतक जड़ने वाले पहले मेहमान कप्‍तान बन गए हैं। युसूफ ने 2004 में शतक जड़ा था।
दूसरे दिन लंच ब्रेक तक भारत का स्कोर 3 विकेट के नुकसान पर 90 रन था। इसके बाद रहाणे ने पारी को संभाला और टी ब्रेक पर अर्धशतक जड़ दिया। दूसरे छोर पर कोई मजबूत साथ नहीं मिला और हनुमा विहारी (21) और ऋषभ पंत (29) के विकेट गंवाए। तीसरे सेशन में रहाणे और जडेजा ने कोई विकेट गिरने नहीं दिया और दिन का खेल समाप्‍त होने तक क्रीज पर टिके रहे।