नंबर प्लेट पर जाति या पद लिखा तो वाहन होगा सीज, भरना पड़ेगा जुर्माना

यूपी मे वाहन के नंबर प्लेट पर जाति सूचक नाम लिखने पर योगी सरकार सख्त
वाहनों के नंबर प्लेट पर जाति या फिर पद लिखाकर रौब झाड़ने का चलन चल पड़ा है। हालांकि इसकी शिकायत पहले भी की गई थी और इस पर कार्रवाई के आदेश भी दिए गए थे लेकिन विभागीय लापरवाही के चलते इस पर कोई काम नहीं किया गया। इस एक बार फिर वाहनों के नंबर प्लेट पर जाति या फिर पद लिखाकर घूमने वालों की शिकायत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से की गई है।
प्रधानमंत्री कार्यालय से भेजे गे शिकायती पत्र का हवाला देने हुए परिवहन विभाग ने सभी संभागीय परिवहन अधिकारियों से नंबर प्लेट पर जाति सूचक या फिर पद लिखाकर घूमने वालों के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई करने का निर्देश जारी किया है।
इस आदेश के बाद अब अगर ऐसा कोई वाहन पाया गया तो मोटर वाहन अधिनियम के तहत पहली बार मिलने पर 500 रुपए और फिर दोबारा मिलने पर 1500 रुपए का जुर्माना वसूला जाएगा।
प्रदेश में दोपहिया, तिपहिया और चार पहिया वाहनों की प्लेटों पर अक्सर जाति सूचक नाम लिखे होते हैं। ऐसा लिखकर लोग समाज में अपनी अलग पहचान बनाते हैं। पद लिखकर पुलिस वालों पर रौठ झाड़ते हैं। अक्सर वाहनों पर प्रेस, पुलिस या फिर डीएम कार्यालय या अन्य विभागीय पद नाम लिखकर बे धड़क सड़कों पर दौड़ते दिख जाते हैं। लेकिन अब इस नए नियम के आ जाने के बाद उन्हें पकड़े जाने पर जुर्माना भरना पड़ेगा।
बता दे मोटर वाहन अधिनियम के तहत वाहनों के नंबर प्लेट पर जाति या फिर पद नाम लिखना कानून गलत है। लेकिन पुलिस ये जानते हुए भी कार्रवाई करने से कतराती है। महाराष्ट्र के हर्षपाल प्रभू ने पीएम मोदी को पत्र लिखकर वाहन मालिकों को इस प्रकार से पहचान जाहिर करने पर आपत्ति जताई है।
उन्होंने पीएम मोदी को लिखे अपने पत्र में कहा है, अपनी पहचान उजागर करने के लिए जातियों का गुणगान करने से जातीय संघर्ष की स्थिति उत्पन्न हो सकती है। हर्षपाल के पत्र का संज्ञान लेते हुए पीएम कार्यालय ने सभी राज्यों को नियमानुसार कार्रवाई करने के निर्देश जारी किए हैं।