BUDGET 2021 में पेंशनरों को राहत दे सकती है सरकार, जानिए पूरी बात…

कोरोना काल में देश के अधिकांश लोगों की आर्थिक स्थिति डवांडोल हुई है। इस स्थिति की सबसे ज्यादा मार देश के बुजुर्ग झेल रहे हैं। पेंशन के जरिए जीवन निर्वाह करने वालों के लिए कोरोना काल किसी दुःस्वप्न से कम नहीं है। अब सरकार ने कोरोना काल में संकट झेल रहे बुजुर्गों को बड़ी राहत देने पर विचार कर रही है।
दरअसल पेंशन फंड रेग्युलेटर एंड डेवेलपमेंट अथॉरिटी ने वित्त मंत्रालय से बजट 2021-22 में पेंशनर्स को इनक्म टैक्स में छूट देने की सिफारिश की है। पीडीआरएफ की इस सिफारिश के बाद अब सरकार भी नेशनल पेंशन स्कीम के तहत टैक्स में छूट देने पर विचार कर रही है।
रिपोर्ट के अनुसार बजट 2021-2022 में एनपीएस पर टैक्स छूट बढ़ सकती है। सरकार पर निर्भर करता है कि टीयर-1 पेंशनधआरकों के लिए टैक्स छूट बढ़ाई जाए। सूत्रों की माने तो पीएफआरडीए की ओर से एनपीएस में 14 फीसदी तक हिस्सेदारी पर टैक्स छूट देने की सिफारिश की गई है। गौरतलब है कि एनपीएस में 10 फीसदी तक हिस्सेदारी पर टैक्स छूट मिलती है।
जानकारी के अनुसार, पीएफआरडीए ने टीयर-1 कर्मचारियों को एनपीएस से संबंधित छूट देने, एनपीएस में 14 फीसदी तक हिस्सेदारी बढ़ाने और अन्यूट प्लान के तहत मिली रकम पर टैक्स छूट देने की सिफारिश वित्त मंत्रालय से की है।
इसके अलावा टीयर-1 में सेक्शन 80ccd(1b) के तहत छूट सीमा बढ़ाने और टैक्स छूट सीमा 50 हजार रुपए से बढ़ाकर 1 लाख रुपए करने की सिफारिश की गई है। इसके साथ पेंशन फंड रेग्युलेटर ने एनपीएस टीयर-2 के सभी पेंशनर को 80c के तहत छूट देने की सिफारिश की गई है।