किसान संवादः पीएम मोदी ने किसानों से पूछा सवाल, विपक्ष को दिया करारा जवाब…

किसान संवाद के शुरुआती चरण में पीएम मोदी ने छह राज्यों के किसानों से संवाद किया। उन्होंने कहा यह भ्रम फैलाया जा रहा है कि कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग करने पर किसानों की जमीन छीन ली जाएगी। अरुणाचल प्रदेश के किसान गगन पेरिंग से संवाद के दौरान पीएम मोदी ने पूछा क्या कंपनी ने आपकी जमीन पर कब्जा कर लिया है? गगन पेरिंग ने कहा, उन्होंने अपने पैसों का इस्तेमाल ऑर्गेनिक फार्मिंग में किया और मजदूरों को पैसा दिया।
मध्य प्रदेश के किसान मनोज से संवाद करते हुआ पीएम मोदी ने पूछा नए कृषि कानून और पुराने कृषि कानून से आपके जीवन में क्या बदलाव आया है? इस सवाल पर किसान मनोज ने बताया कि, नए कृषि कानून से फसल बेचने का नया द्वार मिला है। अब अपनी फसल को कहीं भी बेच सकते हैं। उन्हें सोया फसल बेचने का लाभ मिला।
पीएम ने सवाल किया- कुछ लोग नए कृषि कानून का विरोध कर रहे हैं। वो कह रहे हैं कि इससे किसानों को बहुत नुकसान होगा, आप कैसे कह रहे हैं कि इस कानून का फायदा होगा। इस सवाल पर किसान ने कहा, हमे घाटा नहीं हो रहा है, फसल खरीददारी करने वाले अब पारदर्शी तरीके से हमारी फसलों को खरीद रहे हैं।
पीएम मोदी ने कहा, अगर कोई किसान अपनी फसल बचाने के लिए पशु को मार देता था उसे अलग-अलग धाराओं में जेल में डाल दिया जाता था लेकिन अब ऐसा नहीं है। पूरी जांच के बाद ही कोई कार्रवाई की जाती है। पीएम मोदी ने किसान मनोज का शुक्रिया अदा किया। उन्होंने कहा अगर किसानों को इस कानून से कोई समस्या है तो सामने बैठकर वार्ता करें, हर समस्या का समाधान वार्ता के जरिए ही निकलेगा।