कोरोना वायरस का कहरः इटली में 24 घंटे में 250 लोगों की मौत, विश्व में 1.31 लाख लोग संक्रमित

चीन के निकले कोरोना वायरस के कहर से दुनिया के 118 देशों में दहशत है। इस दहशत का आलम यह है कि वहां के लोग अपने घरों से निकलना बंद कर दिये हैं। कई देशों में आपातकाल घोषित कर दिया गया है। अमेरिका ने शुक्रवार को देश में आपातकाल घोषित कर दिया। इस बीच एक बड़ी खबर सामने आई है। चीन के बाद कोरोना वायरस के संक्रमण से सबसे ज्यादा प्रभावित देश इटली में 24 घंटें के दौरान 250 लोगों की मौत हो गई है। इटली में कोरोना के वजह से अब तक 1266 लोगों की मौत हो गई।
कोरोना से एक दिन सबसे ज्यादा मौत
किसी भी देश में कोरोना वायरस से एक दिन में मरने वालों का सबसे बड़ा आंकड़ा इटली से सामने आया है। यहां 24 घंटे में 250 लोग असमय काल के गाल में समा गए हैं। यहां इस बीमारी से कुल 17,660 लोग पीड़ित हैं। यहां इस वायरस के 1266 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि शुक्रवार तक यहां पीड़ितों की संख्या 2549 लोगों की बढ़रोतरी हुई। इटली सरकार ने 1.60 करोड़ लोगों की अपने घर से निकलने पर रोक लगा दी है। इसकी वजह से इटली के कई शहर विरान हो गए हैं।
1.60 लाख भारतीय इटली में फंसे
बता दें कि चीन के बाद इटली ऐसा देश है जहां कोरोना वायरस का संक्रमण सबसे ज्यादा है। इटली में भारत के तकरीबन 1.60 लाख लोग रहते हैं, इनकी जांच के लिए भारतीय मेडिकल टीन शुक्रवार को इटली पहुंच गई। इटली में भारत के दूतावास ने कहा है कि जल्द ही संदिग्धों की पहचान कर ली जीएगी। भारत सरकार वहां फंसे भारतीयों को जल्द से जल्द भारत वापस लाना चाहती है।
ईरान, इराक में मदद मुहैया कराने के बाद इटली पहुंचा चीनी चिकित्सा दल
इस बीच कोरोना से मचे हाहाकार से निपटने के लिए चीन के चिकित्सकों का दल रोम पहुंच गया है। इटली स्थित चीनी राजदूत ली चनह्वा ने इस बात की जानकारी दी है। चीन सरकार ने 9 विशेषज्ञों गठित एक चिकित्सा दल इटली भेजा। 12 तारीख को महामारी की रोकथाम और नियंत्रण करने में इटली को सहायता देने के लिए वे आवश्यक चिकित्सा सुरक्षा उपकरण आदि सामग्रियों को लेकर शंघाई से रोम पहुंचा। ईरान और इराक को सहायता देने के बाद यह चीन द्वारा भेजा गया ये तीसरा विशेषज्ञ दल है।
फ्रांस में 24 घंटे में 18 लोगों की मौत, 79 हुई मृतकों की संख्या
फ्रांस में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण 18 लोगों की मौत होने से कुल मृतक संख्या 79 पहुंच गई। स्वास्थ्य मंत्री ओलिवर वेरन ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। इस बीच, लंदन से प्राप्त एक खबर के मुताबिक कोरोना वायरस से खतरे को देखते हुए लंदन मैराथन को चार अक्टूबर तक के लिए टाल दिया गया है।
अमेरिका राष्ट्रीय आपातकाल, कोरोना से निपटने के लिए 50 अरब डॉलर
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा की, इससे कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए संघीय कोष से सरकार को 50 अरब डॉलर की राशि मिलेगी। व्हाइट हाउस के लॉन में ट्रंप ने एक बयान में कहा, ‘संघीय सरकार की पूर्ण शक्ति का उपयोग करने के लिए मैं आधिकारिक तौर पर राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा करता हूं। उन्होंने अमेरिका के सभी राज्यों से आपात ऑपरेशन केन्द्र बनाने को कहा है।
पीएम मोदी ने सार्क नेताओं से की अपील
हालात की समीक्षा करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सार्क नेताओं के साथ एक वीडियो कांफ्रेंस का प्रस्ताव रखा है ताकि एक संयुक्त रणनीति बनाकर दुनिया के सामने उदाहरण पेश किया जा सके। मोदी ने ट्वीट किया, ‘हमारी धरती कोविड-19 से लड़ रही है। विभिन्न स्तरों पर सरकारें और लोग इससे निपटने का सर्वश्रेष्ठ प्रयास कर रहे हैं।
118 देशों में 1.31 लाख लोग प्रभावित, 5 हजार से ज्यादा की मृत्यु
स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने पत्रकारों को बताया कि 118 देशों में इस महामारी से अभी तक 5,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है और 1.31 लाख से ज्यादा लोग इससे संक्रमित हैं, लेकिन यह स्वास्थ्य आपातकाल नहीं है और घबराने की जरूरत नहीं है। उन्होंने बताया कि भारत ने अभी तक मालदीव, अमेरिका, मेडागास्कर और चीन सहकित कई प्रभावित क्षेत्रों से कुल 1,031 लोगों को बाहर निकाला है।
भारत में कोरोना पीड़ितों की संख्या 83 हुई
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, गुरुवार रात से अभी तक देश में कोरोना वायरस संक्रमण के और आठ मामलों की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही देश में संक्रमण के मामले बढ़कर 83 हो गए हैं। इनमें 17 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं। मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि इन 82 लोगों में दिल्ली की 68 वर्षीय महिला और कर्नाटक का 76 वर्षीय पुरुष भी शामिल हैं। दोनों की मौत एक से ज्यादा बीमारियों के कारण हुई है लेकिन दोनों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की भी पुष्टि हुई है।