सीएम योगी ने बताया कृषि कानूनों से विपक्ष की परेशानी की असल वजह, जानिए क्या कहा…

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कृषि कानूनों को लेकर विपक्ष को तबियत से लताड़ा। विधानसभा में बजट सत्र के दौरान उन्होंने कृषि कानूनों को लेकर विपक्ष की परेशानी को भी बताया। उन्होंने कहा, दरअसल कृषि कानूनों से किसानों को कोई परेशानी नहीं, असल परेशानी की वजह है दलालों की दलाली का बंद हो जाना। उन्होंने कहा, अन्नदाता को इस कानून की कोई चिंता नहीं है लेकिन विपक्षी दलों की दलाली का धंधा बंद हो गया।

सीएम योगी ने विपक्ष पर सीधा हमला बोलते हुए कहा, परेशानी विपक्षी दलों के उन मित्रों को है, जिनकी दलाली का पैसा सीधा किसानों के खातों जमा हो रहा है। सीएम योगी किसान आंदोलन पर सपा, बसपा और कांग्रेस के सवालों का जवाब देते हुए ये बातें कहीं।
सीएम योगी ने कहा, पहले गन्ना पर्ची, खांडसारी लाइसेंस में उगाही का धंधा खूब फल-फूल रहा था, चीनी मिलों में भी खूब खेल चलता था। अब गन्ना पर्ची सीधा किसानो के मोबाइल पर जाती है। खांडसारी लाइसेंस ऑनलाइन व फ्री हो गया तो परेशानी तो होगी ही।
उन्होंने कहा, किसानों की आड़ में कमाई का खेल अब बंद हो गया तो वे खीझ उतारने के लिए अनर्गल आंदोलन कर रहे हैं और किसानों में कृषि कानूनों को लेकर भ्रम फैला रहे हैं जिससे माहौल बिगड़े।
सीएम योगी ने अपने संबोधन के दौरान कहा, सच्चाई तो ये है कि विपक्ष को नए कृषि कानूनों के बारे में कुछ पता नही है। वो तो बस विरोध के लिए विरोध कर रहे हैं। जानकारी के अभाव में वह वॉकआउट कर रहे हैं।
सीएम योगी ने कहा, विपक्ष को अब बिगड़ैल खिलाड़ी की आदत बंद करनी चाहिए जो खेल की शुरुआत करके भाग जाते हैं। सीएम योगी ने कहा किसानो के लिए कहीं कोई प्रतिबंध नहीं है लेकिन कानून को हाथ में लेकर आगजनी, तोड़फोड़ और सार्वजनिक प्रतीकों का अपमान करने और प्रदेश की 24 करोड़ जनता की सुरक्षा से खिलवाड़ नहीं करने दिया जाएगा।