सीएम योगी, बोले- हम पूरे भारत को माता के रूप में देखते हैं, लेकिन देश बांटना आपका राजनीतिक संस्कार

कांग्रेस नेता राहुल गांधी के एक ट्वीट पर सियासी माहौल गर्म है। राहुल गांधी ने अपनी ट्वीट में लिखा है कि उन्हें केरल जाना क्यों पसंद और उन्होंने अमेरिकी छात्रों से क्या कहा था। उन्होंने कहा है कि उन्हें केरल इसलिए जाना पसंद है क्योंकि जैसी वो राजनीति करते हैं वही राजनीति वहां के लोगों के पसंद है। उनके इस ट्वीट पर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने पलटवार किया है।
सीएम योगी ने कहा, सनातन आस्था की तपस्थली केरल से लेकर प्रभु श्री राम की जन्मस्थली उत्तर प्रदेश तक के सभी लोग आपको कायदे से समझ चुके हैं। सीएम ने तीखा प्रहार करते हुए कहा, राहुल जी विभाजनकारी राजनीति आपका राजनीतिक संस्कार है। हम उत्तर या दक्षिण नहीं पूरे भारत को माता स्वरूप देखते हैं।
दरअसल वायनड के सांसद राहुल गांधी ने कहा है कि उत्तर भारत में उन्हें अलग तरह की राजनीति की आदत हो गई थी और केल आना उनके लिए एक नए तरह का अनुभव है, क्योंकि यहां के लोग मुद्दों में ज्यादा दिलचस्पी रखते हैं।
राहुल गांधी के बयान के बाद सीएम योगी ने पलटवार करते हुए कहा, श्रद्धेय अटल जी ने कहा था,’भारत जमीन का टुकड़ा नहीं, जीता जागता राष्ट्रपुरुष है’, कृपया आप इसे अपनी ओछी राजनीति की पूर्ति के लिए ‘क्षेत्रवाद’ की तलवार से काटने का कुत्सित प्रयास न करें। भारत एक था, एक है, एक ही रहेगा।
कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बयान पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भी तीखी प्रतिक्रिया दी है, उन्होंने ट्वीट पर कहा,, ‘एहसान फरामोश! इनके बारे में तो दुनिया कहती है – थोथा चना बाजे घना।
जानिए राहुल गांधी ने कहा क्या था…
राहुल गांधी ने कहा, उन्होंने केरल के लोगों से काफी कुछ सीखा है और यहां के लोगों की बुद्धिमतता को थोड़ा समझा है। उन्होंने कहा, ‘पहले 15 साल मैं उत्तर भारत से सांसद रहा। इसलिए मुझे अलग तरह की राजनीति की आदत हो गई थी, मेरे लिए केरल आना नया अनुभव था, क्योंकि अचानक मैंने देखा कि लोग मुद्दों में दिलचस्पी रखते हैं, सिर्फ दिखावे के लिए नहीं बल्कि गहनता से उस पर विचार करते हैं।
राहुल ने कहा, हाल ही में अमेरिका में छात्रों से बातचीत में उन्होंने कहा था कि ‘केरल के लोग जैसी राजनीति करते हैं’ इसलिए उन्हें वहां जाना बहुत पसंद है। उन्होंने कहा, ‘हाल ही में मैं अमेरिका में कुछ छात्रों से बातचीत कर रहा था और मैंने उन्हें बताया कि मुझे केरल जाना, वायनाड जाना बहुत पसंद है। यह सिर्फ लगाव नहीं है, निश्चित तौर पर लगाव तो है ही, लेकिन आप जिस तरह से राजनीति करते हैं (उसके कारण)।
बता दें, यूपी की अमेठी लोकसभा सीट से राहुल गांधी 2004 से सांसद रहे। 2019 में राहुल गांधी ने अमेठी और केरल के वायनाड से एक साथ पर्चा भरा था। अमेठी में उन्हें भाजपा की स्मृति इरानी के हाथों पराजय झेलना पड़ा लेकिन उन्हें वायनाड से जीत हासिल हुई।