अखिलेश का अह्वान- कुशासन और धोखे का पर्याय बनी भाजपा को 2022 में सत्ता से करें बेदखल

Last Updated : by

20 Views
समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने पार्टी मुख्यालय पर आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान ‘समाजावादी पार्टी का अह्वान’ पत्र के जरिए पार्टी पदाधिकारियों से अपील की है। उन्होंने कहा, वे राज्य और केन्द्र सरकार की जनविरोधी नीतियों का जन-जन के बीच जाकर पर्दाफाश करें। उन्होंने कहा, देश का किसान लुट रहा है, मजदूर भूखों मर रहा है, बेरोजगारी लगातार बढ़ती जा रही है, नौकरी के नाम पर युवकों को धोखा दिया जा रहा है। उन्होंने पदाधिकारियों से अपील की है कि वे दोनों सरकारों की जनविरोधी नीतियों को जन-जन तक पहुंचाएं।
पदाधिकारियों के अपील करते हुए सपा प्रमुख ने कहा, वे पीड़ितों, दुखी और असहाय लोगों की लगातार मदद करते रहें। उन्होंने कहा सरकारों से जिन्हें कोई उम्मीद नहीं रह गई है उनके साथ नर्मी से पेश आएं और उनकी हर हाल में मदद करें। अखिलेश ने कहा, हमारा लक्ष्य है 2022 में प्रदेश में कुशासन का पर्याय बन गई बीजेपी सरकार को 2022 के चुनावों में सत्ता से बेदखल करना।
अखिलेश यादव ने कहा देश की सीमाएं सिकुड़ रही हैं। बीजेपी ने जनता का भरोसा तोड़ने का काम किया है। कोरोना महामारी से पूरा देश भयाक्रांत है। लॉकडाउन ने सामाजिक-आर्थिक सभी गतिविधियां ठप्प कर दी हैं. लाखों श्रमिक बेरोजगार हो गए हैं। अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी ने सत्ता में आने के बाद जनहित का कोई उल्लेखनीय काम नहीं किया है. जनता अपने साथ हुए विश्वासघात को भूल नहीं सकती है।
अखिलेश मे कहा, हमारा मुख्य लक्ष्य उत्तर प्रदेश में कुशासन का पर्याय बन गई बीजेपी सरकार को 2022 के चुनावों में सत्ता से बेदखल करना है। अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी की केंद्र सरकार ने देश को आर्थिक अराजकता, मंदी, अपराध और लोकतंत्र के अवमूल्यन की दिशा में ढकेला है। साजिश और अफवाह, यही बीजेपी के हथियार हैं।
अखिलेश यादव ने आह्वान किया कि आज हमें यह देखना होगा कि नौजवानों और किसानों के साथ अन्याय न हों, अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता और मानवाधिकारों का हनन न हो। देश में डर और आतंक का माहौल पैदा करने वालों को सफल न होने दें।