अयोध्याः हनुमानगढ़ी के महंत कन्हैया दास की ईंट के कूचकर हत्या

सीएम योगी आदित्यनाथ की सर्वोच्च प्राथमिकता के शहर अयोध्या से बड़ी घटना सामने आई है। यहां के हनुमानगढ़ी के महंत कन्हैया दास की शनिवार रात सोते समय ईंट से सिर कूचकर हत्या कर दी गई। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस तत्काल घटना स्थल पर पहुंच गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। उधर घटना की जानकारी जैसे ही नागा साधुओं को लगी वह उत्तेजित हो गए और घटना स्थल पर बवाल करने लगे।
घटना अयोध्या कोतवाली रायगंज क्षेत्र की है। जानकारी के अनुसार चरण पादुका के गौशाला में हनुमानगढ़ी के नागा साधु बसंतीय पट्टी से जुड़े गुलचमन बाग के महंत कन्हैया दास चेलाराम रामवरन दास की ईंट से कूच कर हत्या कर दी गई। सूचना मिलते ही पुलिस अधिकारी व फिंगरप्रिंट एक्सपर्ट भी घटनास्थल पर पहुंच गए।
मृत संत के गुरु भाई रामानुजदास चेला रामबरन दास ने आरोप लगाया है कि साधु कन्हैया दास हनुमानगढ़ी मंदिर के बगल स्थित गुलचमन बाग में भोजन के उपरांत चरण पादुका में स्थित गौशाला में रोज सोने आते थे। बीती रात गौशाला में सो रहे थे जहां उनकी हत्या कर दी गई है।
इनका जमीन मकान को लेकर गोलू दास उर्फ शशिकांत दास से मुकदमा चल रहा था। जिसकी आपस में रंजिश भी रहती थी और लालच में आकर गोलू दास ने संत कन्हैया दास की हत्या की है। गोलू दास को हिरासत में ले लिया गया है।
पुलिस अधीक्षक (नगर) विजय पाल सिंह- चरण पादुका आश्रम के महंत कन्हैया दास को मारपीट करके चोट पहुंचाकर के उनकी हत्या कर दी गई। सूचना पर हमलोग पहुंचे है। इसमें थाना कोतवाली अयोध्या में अभियोग पंजीकृत किया गया है। उसमें एक आरोपित नामजद किया गया है।
आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। घटना में जो भी लोग दोषी हैं उनकी गिरफ्तारी होगी और उनके विरुद्ध नियमानुसार कार्रवाई होगी। कन्हैया दास का संपत्ति और लेनदेन का विवाद चल रहा था।