अयोध्या धाम का विकास सोलर सिटी के रूप में किया जाएः सीएम योगी

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के साथ ही अयोध्या को विश्व मानचित्र पर चमकता हुआ देखने के लिए सूबे की योगी सरकार सारे जतन कर रही है। सीएम योगी अयोध्या धाम के महत्व को ध्यान में रखते हुए उसका प्राचीन गौरव दिलाने के लिए कृतसंकल्पित है। सीएम योगी ने अयोध्या धाम में विकास कार्यों को गति प्रदान करने के लिए अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए हैं।
लोकभवन में अयोध्या धाम के समेकित पर्यटन विकास के संबंध में दिए गए प्रस्तुतीकरण के दौरान सीएम योगी ने कहा, अयोध्या नगरी को सोलर सिटी के रूप में तैयार किया जाए। उन्होंने कहा, अयोध्या आने वाले पर्यटकों को स्तरीय सुविधाएं मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा अयोध्या का विकास कार्य योजना बनाकर चरणबद्ध तरीके से किए जाएं।
उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा,अयोध्या पहुंचने वाले दर्शनार्थियों की सुविधा के लिए सड़कों का निर्बाध नेटवर्क तैयार किया जाए। सड़कों के दोनों ओर सभी जनसुविधाओं की अच्छी व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। विभिन्न स्थलों पर मल्टी लेवेल पार्किंग का निर्माण किया जाए, ताकि लोग सड़क पर वाहन न खड़ा करें।
सीएम योगी ने कहा, अयोध्या धाम विश्व के मानचित्र में महत्वूपर्ण स्थान है। यहां पर्यटन की असीम सम्भावनाएं हैं,प्रत्येक स्तर पर रोजगार के अवसर भी है। उन्होंने कहा कि पर्यटकों को अयोध्या धाम का भ्रमण कराने के लिए प्रशिक्षित गाइड की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि भरत कुण्ड, सूर्य कुण्ड तथा नन्दी ग्राम का तेजी से विकास कार्य कराया जाए।
इसके अलावा उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा,अयोध्या में घाटों का पुनर्विकास एवं सौन्दर्यीकरण तेजी से कराया जाए। मुख्यमंत्री ने चैरासी कोसी परिक्रमा मार्ग के कार्य तेजी से कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि श्री मखौड़ा धाम, जनपद बस्ती में पर्यटन सम्बन्धी सभी कार्य भी निर्धारित समय सीमा में पूर्ण किए जाएं।