अब अधिकारियों के चक्कर काटे बिना पुलिसकर्मियों को मिलेगी छुट्टी

एटा– जनपद में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एटा द्वारा पूर्व से स्मार्ट पुलिसिंग बनाने की दिशा में कई प्रभावी कदम उठाए जा रहे हैं। जिसमें स्मार्ट ई-पुलिस एप का एक और नाम जुड़ गया है। एसएसपी एटा तथा स्मार्ट ई टच कंपनी के इंजीनियर निशान्त पाण्डेय वाराणसी के द्वारा डिजाइन किये गये इस साॅफ्टवेयर से एटा पुलिस कर्मियों का अवकाश लेना पेपरलेस हो गया है।

स्मार्ट ई पुलिस मोबाइल एप पर छुट्टी लेना हुआ आसान हो गया है ।जनपद में पुलिस कर्मियों अधिकारियो के चक्कर नहीं लगाने पड़ेगे। इसके लिए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एटा द्वारा लीव मैनेजमेंट सिस्टम एप लांच किया गया है। इसी के साथ वाराणसी, मिर्जापुर के बाद एटा भारत का तीसरा जिला बन गया, जहां पुलिस के जवान और अधिकारी भी छुट्टी एप के माध्यम से प्राप्त करेंगे।  यूपी की पुलिस अब स्मार्ट पुलिसिंग की ओर अग्रसर है। पुलिस के जवान और अधिकारी जिला मुख्यालय से दूर अपनी ड्यूटी पर तैनाती के दौरान अगर छुट्टी चाहते हैं तो उन्हें अब मुख्यालय का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा, इससे कागज और समय की बचत होगी साथ ही भागदौड़ से राहत मिलेगी। पुलिसकर्मी अपने तैनाती स्थल से ही मोबाइल पर स्मार्ट ई पुलिस मोबाइल एप से छुट्टी आवेदन कर सकते हैं। आवेदक को लिए गये निर्णय की भी जानकारी उसे एप द्वारा ही मिल जायेगी ,भारत का पहला एप है जिससे पर स्मार्ट ई पुलिस मोबाइल एप के द्वारा से छुट्टी आवेदन कर सकते है।

एटा में एसएसपी द्वारा स्मार्ट ई-पुलिस के पंद्रहवें चरण के पायलट प्रोजेक्ट का शुभारंभ किया गया है, जिसके तहत ट्रांसफर पोस्टिंग, आनलाइन डियूटी मैनेजमेंट तथा अवकाश जैसे सिस्टम को शुरू किया गया है। आगे चलते ही एप्लीकेशन के क्रियान्वयन और उसके फीडबैक के आधार पर स्मार्ट ई पुलिस के अन्य टूल्स को लागू किया जाएगा, जिसमें पुलिस ट्रैनिंग और पुलिस शिकायत पोर्टल रहेंगे। इस स्मार्ट ई पुलिस एप के माध्यम से अवकाश लागू होने से जहां एक ओर पुलिसकर्मियों में खुशी की लहर है वहीं दूसरी ओर एसएसपी  द्वारा लागू की गई इस एप के प्रति रोमांच भी है।