अखिलेश का बड़ा बयानः लाल रंग क्रांति का प्रतीक, क्रांति के जरिए अहंकारी सरकार को करेंगे सत्ता से बेदखल

अखिलेश यादव ने कहा कि अगर झूठ बोलकर बीजेपी 324 सीट जीत सकती है तो सपा सच बोलकर फिर से उत्तर प्रदेश में सरकार बनाएगी, लाल टोपी पहने व्यक्ति को गुंडा कहने वाले साफ तौर पर समझ लें, लाल रंग क्रांति का प्रतीक होता है और क्रांति के जरिए अहंकारी सत्ता का पतन होता है…
उत्तर प्रदेश विधानसभा में अभी वक्त है लेकिन राजनीतिक दलों ने अपनी तैयारियों को जमीन पर उतारना शुरु कर दिया है। बयानों की बयार से जनता को रिझाने का कौशल खुलकर सामने आ रहा है। इस बीच समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने जौनपुर में सीएम योगी पर बड़ा हमला बोला। लाल टोपी पहने व्यक्ति को गुंडा कहने वाले साफ तौर पर समझ लें, लाल रंग क्रांति का प्रतीक होता है और क्रांति के जरिए अहंकारी सत्ता का पतन होता है। उनका भी रंग लाल है फिर वो लाल रंग से इतना क्यों डरते हैं। इस दौरान उन्होंने कहा अबकी बार जनता ने समाजवादी पार्टी को सत्ता सौंपने की तैयारी कर ली है।
अखिलेश यादव ने कहा, भाजपा सरकार अहंकारी नीतियों को जनता ने देख लिया, अभी तक भाजपा ने अपना कोई वादा पूरा नहीं किया और न ही विकास का कोई काम किया है। उनके पास ठोंकने, पटकने, फर्जी एनकाउंटर के अलावा कोई काम नहीं। विकास की बाते करने पर वो नफरत की भाषा बोलने पर उतारू हो जाते हैं। इस बार जनता ने मन बना लिया है कि प्रदेश में विकासवादी सरकार को सत्ता सौंपनी है, इस बार सपा सरकार बनाने जा रही है।
अखिलेश यादव नें सीएम योगी के बयान पर एक बार फिर कहा, कि उन्हें लाल रंग से इसलिए चिढ़ है कि शायद बचपन में उन्होंने लाल मिर्च खा लिया हो। इस दौरान अखिलेश यादव ने पुलिस अभिरक्षा में मरे पुजारी यादव के परिजनों से भी मुलाकात की। इस दौरान अखिलेश ने एक वाकए का जिक्र करते हुए कहा, शाहजहां पुर में अभी एक बच्ची के साथ घटना हुई। सपा का एक दल उनसे मिलने गया था जहां पर बच्चियों ने गुहार लगाई, इस बलात्कारी सरकार से उन्हें बचाया जाए।
अखिलेश ने कानून व्यवस्था के मुद्दे पर भी योगी सरकार को निशाने पर लिया। उन्होंने कहा, प्रदेश में ऐसा कोई दिन गुजरात जब हत्या,बलात्कार जैसे गंभीर मामलों से अखबार रंगे न हों। उन्होंने कहा जहां से सरकार चलती है लखनऊ भी अब सुरक्षित नहीं। फर्जी एनकाउंटर की भरमार है। उन्होंने कहा, पूरे भारत में सबसे ज्यादा कस्टोडियल डेथ के मामले उत्तर प्रदेश टॉप पर है। भाजपा पुलिस के दम पर सरकार चलाना चाह रहे हैं। लोगों को डरा कर, धमकाकर और गुमराह कर सरकार चला रहे हैं।
अखिलेश यादव ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर झूठ बोलकर बीजेपी 324 सीट जीत सकती है तो समाजवादी पार्टी सच बोलकर और सभी वर्गों को इकट्ठा कर एक बार फिर से उत्तर प्रदेश के अंदर सरकार बनाएगी। उन्होंने कहा कि मौजूदा सरकार के पास कोई भी विजन नहीं है। यह सरकार मात्र पिछले सरकार के शिलान्यास का उद्घाटन कर रही है।
अखिलेश यादव ने इस दौरान बड़ा बयान दिया है। हालांकि उन्होंने चाचा शिवपाल यादव के प्रस्ताव पर तो कुछ नहीं कहा लेकिन उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि 2022 के विधानसभा चुनावों के लिए गंठबंधन के रास्ते खुले हैं। सभी छोटे दलों के साथ मिलकर सरकार बनाने का हमारा फैसला पहले भी था और अब भी है।