क्या अखिलेश यादव भी ऐसा बयान दे सकते हैं, जानिए कैसे जीतेंगे 351 सीटें

राजनीति में साम,दाम,दंड, भेद सब चलता है। सत्ता के लिए कुछ भी करते हैं हमारे माननीय। अक्सर ये नेता बाबाओं के पास अपनी राजनीतिक हैसियत की कुंडली दिखवाते हैं। उनका इस पर इतना भरोसा होता है कि ये उनकी हर बात पर अमल करने लगते हैं। ऐसा कुछ नेता नहीं बल्कि अधिकांश नेताओं को ऐसा करते देखा जा सकता है। ऐसे तमाम उदाहरण मौजूद हैं जहां राजनेता चुनाव के ठीक पहले मंदिरों, मठों, दरगाहों के आलावा तमाम जगहों पर मत्था टेकते नजर आते हैं। सपा प्रमुख अखिलेश यादव की तरफ से ऐसा ही एक बयान सामने आया है। उनका यह बयान लोगों को चौंकाता है, क्या ये भी इन पर विश्वास करते हैं।
इतनी शिक्षा के बाद ऐसा बयान, विश्वास नहीं होता…
लोगों का चौंकना स्वाभाविक है। दरअसल अखिलेश यादव की पूरी शिक्षा ऐसी है जिसमें अंधविश्वास के लिए रत्तीभर जगह नहीं। उन्होंने इटावा के सेंट मैरी स्कूल से अपनी प्रारंभिक शिक्षा पूरी की। इसके बाद वह राजस्थान के ढोलपुर के मिलिटरी स्कूल में आगे शिक्षा ग्रहण की उसके बाद वह पर्यावरण इंजीनियरिंग में स्नातकोत्तर डिग्री के लिए ऑस्ट्रेलिया चले गए। ऐसी शिक्षा ग्रहण करने के बाद अगर कोई ऐसा बयान देता है तो लोग तो चौंकेंगे ही।
अखिलेश ने दिया चौंकाने वाला बयान
समाजवादी पार्टी के प्रमुख ने लोगों को चौंकाते हुए कहा, साल 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव में उन्हें 351 सीटें मिलेंगी। उन्होंने दावा किया कि रविवार को लखनऊ से दिल्ली जाते वक्त एक शख्स ने उनका हाथ देखकर यह बताया थि। उसने कहा था कि आप मेहनत करें, इस बार आप 350 सीटें जीतकर सरकार बनाएंगे। इसके बाद मैने तय किया कि हम 350 नहीं 351 सीटें जीतेंगे। उन्होंने कहा, हम सब मिलकर वर्ष 2022 में 351 सीटों के साथ सरकार बनाने जा रहे हैं।
आजम खान पर झूठे मुकदमे दर्ज किए जा रहे हैं
इस दौरान आजम खां को लेकर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा, प्रदेश की योगी सरकार आजम खान के साथ बदले की भावना के साथ काम कर रही है। उन्होने बताया कि हमने सीएम योगी को इसे लेकर फोन किया था। हमने उनसे कहा था, आजम खान पर झूठे मुकदमे लगाए जा रहे हैं। इस दौरान उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि आईएएस और आईपीएस प्रमोशन पाने का लिए आजम खान पर मुकदमे दर्ज कर रहे हैं।