सैन्य अधिकारियों की प्रताड़ना से आहत सैनिक जंतर-मंतर पर करेगा आमरण अनशन

0
26
सर्जिकल स्ट्राइक के दिन पाकिस्तान गया सैनिक चंदू चौहान, तीन माह 21 दिन पाकिस्तानी सैनिकों की प्रताड़ना सहने के बाद अपने की देश के सैन्य अधिकारियों की प्रताड़ना को सहने को बाध्य है। भारत वापस लौटने के बाद उसे 90 दिन सैनिक जेल में रहना पड़ा, उसे तीन माह का वेतन नहीं दिया गया, उसका मोबाइल जब्त कर लिया गया और आईडी भी उसे नहीं दी जा रही है…
भारतीय सैनिकों की शौर्य गाथा गाने में देश का कोई नेता पीछे नहीं हटता है, इसके अलावा 29 सितंबर 2016 की सर्जिकल स्ट्राइक के बाद तो वर्तमान सरकार गाहे बगाहे लगभग हर मंच से सैनिकों की शौर्य का बखान करते नहीं थकते हैं। ठीक सर्जिकल स्ट्राइक के दिन सेना का एक जवान चंदू चौहान सैन्य अधिकारियों की इजाजत के बगैर ही सरहद पार कर पाकिस्तान चला गया। काफी प्रयासों के बाद इस जवान की वापस संभव हो पाई। इस बीच वह पाकिस्तान की जेल में तीन माह 21 प्रताड़ना सही। अब वह दिल्ली में आमरण अनशन करने जा रहा है।
जिस वक्त चंदू पाकिस्तान सरहद में दाखिल हुआ और पाकिस्तानी सैनिकों द्वारा उसे पकड़ा गया सारा देश चंदू की सलामती के लिए एक साथ खड़ा दिखा। भारत सरकार ने भी चंदू की सही सलामत वापसी को लेकर पूरा प्रयास किया आखिरकार सैनिक अपने देश वापस आ गया। लेकिन उसके वापस आने का न तो सैन्य अधिकारियों को रास आ रहा और न ही भारत सरकार कोई तवज्जो दे रही है। इस रवैये को लेकर सैनिक आक्रोशित है। अब उसी चंदू ने जंतर-मंतर पर आमरण अनशन करने का ऐलान किया है।
चंदू चौहन ने मंगलवार को अनशन के संबंध में जानकारी दी और कहा कि यह अनशन दो नवंबर से शुरू होगा। एक न्यूज चैनल से बात करते हुए चंदू ने कहा कि जब से वह पाकिस्तान की जेल से लौटा है, तब से उसे शक की नजर से देखा जाता है. उसे प्रताड़ित किया जा रहा है।
चंदू ने बताया कि उसे पाक से लौटने पर कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी का सामना करना पड़ा। सेना की जेल में 90 दिन की सजा काटनी पड़ी। उन्होंने बताया कि अहमदनगर में पोस्टिंग दी गई है, लेकिन पिछले तीन महीने से उसे वेतन नहीं मिला है। चंदू ने अपना मोबाइल फोन भी जब्त कर लिए जाने का आरोप लगाया और कहा कि यहां तक की उसका पहचान पत्र भी जब्त कर लिया गया है।
चंदू ने मांग की है कि सरकार हस्तक्षेप कर उसे न्याय दिलाए। जो अधिकारी उसे प्रताड़ित कर रहे हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि जब तक सरकार कोई कदम नहीं उठाती, तब तक आमरण अनशन जारी रहेगा। चंदू ने इस संबंध में लिखित सूचना धुले के जिलाधिकारी को दे देने की जानकारी दी।
loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here