साजिशन भारत दौरे नहीं जाना चाहते कई बांग्लादेशी खिलाड़ी, बोर्ड अध्यक्ष ने जताया संदेह

0
50
बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष नजमुल हसन ने भारत दौरे के पहले खिलाड़ियों के रवैये को लेकर किसी षडयंत्र का संदेह जताया है। उन्होंने कहा है कि आप लोगों ने भारत दौरे को लेकर अब तक कुछ नहीं देखा है। इंतजार करें और देखें। अगर मै कह रहा हूं मेरे पास सूचना है कि यह भारतीय दौरे को नुकसान पहुंचाने का षडयंत्र है तो आपको मुझ पर विश्वास करना चाहिए। उनका बयान ऐसे वक्त पर आया है जब बांग्लादेश की टीम भारत दौरे की तैयारी पर है और शाकिब पर कार्रवाई की तैयारी है।
बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष नजमुल हसन ने आरोप लगाया है कि बांग्लादेश के आने वाले भारत दौरे को नुकसान पहुंचाने के लगातार प्रयास किए जा रहे हैं और देश के टॉप क्रिकेटरों की 11 मांगों को लेकर की गई हड़ताल इसका हिस्सा है।
बतादें तीन टी20 और दो टेस्ट के बांग्लादेश के चार हफ्ते के भारत दौरे से पहले बांग्लादेश के खिलाड़ियों ने अंतरराष्ट्रीय और प्रथम श्रेणी स्तर पर बेहतर वेतन को लेकर हड़ताल की थी लेकिन बीसीबी के मांग मानने पर सहमत होने के बाद इसे वापस ले लिया था।
नजमुल हसन ने बांग्लादेश के अखबार ‘प्रोथोम आलो’ को दिए इंटरव्यू में कहा, ‘आप लोगों ने भारत दौरे को लेकर अब तक कुछ नहीं देखा है। इंतजार कीजिए और देखिए। अगर मैं कह रहा हूं कि मेरे पास सूचना है कि यह भारतीय दौरे को नुकसान पहुंचाने का षड्यंत्र है तो आपको मुझ पर विश्वास करना चाहिए।
तमीम इकबाल के भारत दौरे से हटने की वजह से नजमुल हसन को साजिश का संदेह हो रहा है। हसन ने बताया कि सीनियर सलामी बल्लेबाज तमीम इकबाल अपनी पत्नी के प्रसव का हवाला देकर दौरे से हट गए जबकि शुरुआत में वह सिर्फ अंतिम टेस्ट से बाहर रहने पर सहमत हुए थे।
हसन ने कहा, ‘तमीम ने शुरुआत में मुझे बताया था कि वह अपने दूसरे बच्चे के जन्म के कारण सिर्फ दूसरे टेस्ट (कोलकाता में 22 से 26 नवंबर) से बाहर रहेंगे। खिलाड़ियों के साथ बैठक के बाद तमीम मेरे कमरे में आया और कहा कि वह पूरे दौरे से बाहर रहना चाहता है। मैंने उससे पूछ कि ‘ऐसा क्यों’? उसने सिर्फ इतना कहा कि वह नहीं जाएगा।
बीसीबी अध्यक्ष को इस बात का भी संदेह है कि कुछ और खिलाड़ी दौरे से हट सकते हैं। नजमुल हसन ने कहा, ‘इसके बाद मुझे हैरानी नहीं होगी अगर अंतिम लम्हें में कोई और दौरे से हट जाए, जब हमारे पास कोई और विकल्प नहीं बचेगा। मैंने शाकिब को बात करने के लिए बुलाया था। अब अगर वह भी दौरे से हट जाता है तो हम मैं कप्तान कहां से लेकर आऊंगा?
सीनियर खिलाड़ियों की ओर से अपनाई रणनीति से नजमुल हसन हैरान हैं और उनका मानना है कि उनकी मांगों पर सहमत होकर उन्होंने गलती की है। उन्होंने कहा, मुझे अब भी विश्वास नहीं हो रहा। मैं हर दिन उनके साथ बात कर रहा हूं। हड़ताल करने से पहले उन्होंने मुझे जानकारी भी नहीं दी। मुझे लगता है कि उनकी मांगें मानकर मैंने गलती की।
loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here