भूख से बेहाल छात्र ने विवि मेस में खाया खाना , प्रशासन ने ठोंका 20 हजार का जुर्माना

0
33
लखनऊ विश्वविद्यालय घोटालों और भ्रष्टाचार से जिसका पूरा तंत्र ढका है, यहां के प्रशासनिक विभाग ने ऐसा काम कर दिया जिससे एलयू के छात्र आक्रोशित हैं। भूख से निढाल एक छात्र ने मेस से खाना क्या खा लिया जैसे उसे बड़ा आपराध कर दिया। एलयू प्रशासन ने उस छात्र पर न केवल 20 हजार रुपए का जुर्माना लगया बल्कि उसे यह भी धमकी दे डाली कि यदि ये जुर्माना नहीं भरा गया तो उसे विवि से निकाल दिया जाएगा। बतादें यह वही एलयू है जहां निर्माण कार्यों में 2 करोड़ का घोटाला किया गया उसके बाद, यहां के अकाउंट से एक करोड़ 10 लाख रुपए निकाल लिए गए किसी को पता तक नहीं चला।
दरअसल ये पूरा मामला 3 सितंबर का है। बीए सेकंड इयर के छात्र आयुष सिंह ने सेंट्रल मेस में खाना खा लिया था। नियमानुसार, यहां सिर्फ हॉस्टल में रहने वाले स्टूडेंट्स को भोजन करने की अनुमति होती है। छात्र आयुष के खाने की सूचना किसी ने प्रॉक्टर को दी थी। मौके पर पहुंचे प्रॉक्टर ने छात्र को पकड़ा और छानबीन के बाद 30 सितंबर को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया।
विवि प्रशासन ने लगाया जुर्माना दी चेतावनी
विवि प्रशासन ने नोटिस देने के बाद माफी मांगने के बावजूद छात्र पर 20 हजार रुपये का जुर्माना लगा दिया। इसके साथ 100 रुपये के स्टैंप पेपर पर शपथपत्र देने का फरमान भी जारी किया है। प्रॉक्टर प्रो। विनोद कुमार सिंह की ओर से जारी आदेश में एक सप्ताह में जुर्माने की राशि लखनऊ यूनिवर्सिटी के बैंक खाते में जमा न करने पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की चेतावनी दी गई है।
छात्र ने दिया जवाब मांगी माफी
नोटिस का जबाव देते हुए छात्र ने कहा कि बहुत तेज भूख लगने के कारण वह मेस में खाने गया था। इसके साथ ही भविष्य में इस तरह की गलती दोबारा न होने की बात कहते हुए माफी भी मांगी थी। बावजूद इसके एलयू प्रशासन ने 20 हजार रुपये का जुर्माना जमा करने का आदेश जारी कर दिया।
छात्रों ने लगाया मनमानी का आरोप
वहीं छात्रों ने एलयू प्रशासन पर मनमाने तरीके से बीए के छात्र पर जुर्माने का आरोप लगाया है। छात्रों के अनुसार, आयुष ने भूख लगने पर केवल एक ही बार अनधिकृत रूप से मेस में खाया था। ऐसे में चेतावनी देने के साथ ही उसी दिन का चार्ज लेना था, जबकि अधिकारियों ने प्रताड़ित करने के इरादे से नियम विरुद्ध तरीके से 20 हजार रुपये का जुर्माना लगा दिया।
loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here