दीपोत्सव: 5 लाख 51 हजार दीपों से जगमगाई रामनगरी अयोध्या, गिनीज वर्ल्ड रिकार्ड की टीम ने किया सम्मानित

0
37
उत्तर प्रदेश में भले ही अयोध्या में राम मंदिर विवादों में है लेकिन रामराज्य की परिकल्पना को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ आगे बढ़ने की कोशिश में हैं। यह कितनी सार्थक होगी यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा लेकिन शनिवार को अयोध्या में सरजू तट पर अपने संबोधन में उन्होंने जो कुछ कहा उससे तो एक बात तय हो गई कि आने वाले दिनों में एक बार फिर अयोध्या देशवासियों से सिर चढ़कर बोलेगा।

अयोध्या2

यूपी के अयोध्या में सरजू तट पर लगातार तीसरे साल भव्य दीपोत्सव का कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस बार भी 5 लाख 51 हजार दीपों को जलाकर योगी सरकार ने अपने ही पुराने रिकार्ड 3 लाख 10 हजार दीप जलाने के रिकार्ड को तोड़ दिया। इस दौरान गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड की टीम ने उन्हें प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया।

अयोध्या1

यह रिकॉर्ड योगी सरकार के पर्यटन विभाग और डॉ राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के सहयोग से बना है। इससे पहले राम की पैड़ी पर अवध विश्वविद्यालय के 6 हज़ार वॉलिंटियर्स ने इस बार 4 लाख दीप जलाए, जबकि 1 लाख 51 हजार दीपक अयोध्या के सभी प्रमुख मंदिरों में स्कूली छात्रों और स्वयंसेवी संस्थाओं ने जलाए।

इससे पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या पहुंचकर सरजू तट पर राम-सीता की आरती उतारी। दीपोत्सव कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचे सीएम योगी ने कहा, ‘नरेंद्र मोदी ने जाति-धर्म न देखकर सभी को बराबर का हक दिया और रामराज्य स्थापित किया, जब हम अयोध्या की बात करते हैं तो मस्तिष्क में राम सिया आता है। शासन की योजना जिस प्रतिबद्धता के साथ देश में लागू की गई है, ये आधुनिक राम की अवधारण है, जिसमें सभी को समान रूप से सभी तक विकास पहुंचे।

सीएम योगी ने कहा, ‘मोदी सरकार में बिना किसी भेदभाव के सबका विकास हो रहा है। पिछली सरकारें अयोध्या के नाम से डरती थीं। पीएम मोदी ने राम राज्य की धारणा को साकार किया है। मोदी ने भारत की परंपरा को विश्व पटल पर रखा। भारत दुनिया में विश्वगुरू के रूप में स्थापित हो रहा है।
loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here