प्रखर हिंदूवादी नेता का कश्मीरी छात्रों से संवाद, जानिए सीएम योगी क्या कहा…

एएमयू में पढ़ रहे कश्मीरी छात्रों ने सीएम योगी से मिलने से किया था इनकार

0
28
कश्मीरी छात्रों से मिलते सीएम योगी
प्रखर हिंदूवादी नेता और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से शनिवार को नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद और अलीगढ़ के विभन्नि शिक्षण संस्थाओं में पढ़ रहे कश्मीरी छात्र-छात्रओं से मिले। इस मुलाकात के दौरान उन्होंने उनका हाल जाना और उनसे विभिन्न मुद्दों पर राय भी मांगी। बातचीत के दौरान सीएम योगी ने एक शर्त के साथ जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बारे में उनकी राय पूछी और सुझाव भी मांगे।
जम्मू-कश्मीर के छात्र-छात्राओं का स्वागत है
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अलीगढ़ के विभिन्न संस्थानों में अध्ययनरत कश्मीरी छात्रों के साथ संवाद किया। उन सभी से अनुच्छेद 370 हटाने पर राय जानी तथा उनको उत्तर प्रदेश में सुरक्षा तथा सुविधा देने का वादा किया। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वो सभी छात्रों का स्वागत करते हैं और उन्हें खुशी है कि आप सभी छात्रों से संवाद का मौका मिला।
सीएम योगी हमारी समस्या नहीं सुलझा सकते
दरअसल जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटि में छात्र राजनीति उफान पर है। ये राजनीति 370 के इर्द-गिर्द हो रही है। यूपी की राजनीति में 370 पर गर्म छात्र राजनीति से निपटने के लिए सीएम योगी ने बीते दिनों इन कश्मीरी छात्रों को बुलाया था। लेकिन एएमयू में पढ़ने वाले कश्मीरी छात्रों ने आने से इनकार कर दिया था। उनका मानना है कि सीएम योगी से हमारी समस्या का समाधान नहीं हो सकता है। उनका कहना था अगर पीएम मोदी या अमित शाह बुलाते हैं तो वह जरुर आएंगे।
आपको बेहतर सुविधा देना हमारा काम
सीएम योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास पांच कालीदास मार्ग पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के साथ अलीगढ़ से आए कश्मीरी छात्रों ने मुलाकात की। उनके साथ संवाद किया। इस दौरान छात्रों ने एएमयू में पढ़ाई को लेकर बेहतर माहौल होने की बात कही। सीएम ने कहा आप लोग यहां पर इसका लाभ लें। आपको श्रेष्ठ सुविधा का लाभ देना हमारा काम है।
इस शर्त के साथ अनुच्छेद 370 पर अपनी राय दें
सीएम योगी ने कहा, पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कश्मीर के छात्र-छात्रा ज्यादा हैं। यहां पर छात्रों की सुरक्षा हमारी प्राथमिकता है। हम लोकतांत्रिक समाज में रह रहे हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ ने अनुच्छेद 370 को लेकर कश्मीरी छात्रों से बात की। उन्होंने कहा कि हमारे आपके बीच का यह संवाद बेहद गोपनीय है। यह गोपनीय ही रहेगा। सीएम ने कहा कि दूसरे राज्यों के छात्रों से संवाद और बातचीत राज्य की बेहतर छवि के लिए जरूरी है।
आप किसी भी मुद्दे को बे हिचक कह सकते हैं
छात्र-छात्राओं से मुलाकात के दौरान सीएम योगी ने कहा हमारा राज्य भले ही विभिन्न संस्कृतियां है आखिरकार यहां पर आकर रहने और पढ़ने वाले छात्र-छात्राएं सभी हमारे बच्चे हैं। मुझे इस बात की खुशी है कि जम्मू-कश्मीर के छात्र- छात्राओं से संवाद शुरु हुआ। सीएम ने कहा कि आप सभी अपने मुद्दे बना किसी हिचक के मेरे सामने रख सकते हैं। हो सकता है कि आपकी कुछ समस्याएं हों लेकिन आप बेझिझक उसे मेरे सामने रख सकते हैं।
सीएम योगी की प्रमुख बातें
-कई समस्याएं सिर्फ तभी शुरू होती हैं, जब कोई बातचीत नहीं होती
-संवाद के अभाव में गंभीर समस्याएं जन्म ले लेती हैं
-बातचीत से कई मुद्दे सुलझाए जा सकते हैं और चीजें बेहतर होती हैं
-हो सकता है कि आपके कई मुद्दे हों, जिन पर हम केंद्र सरकार का ध्यान आकर्षित करें
-कुछ ऐसी भी समस्याएं हो सकती हैं, जिनमें जम्मू-कश्मीर प्रशासन से वार्ता की जा सके
-आपको मुझसे बातचीत करने में किसी भी प्रकार का कोई संदेह नहीं होना चाहिए
-मुझसे की गई कोई भी बात बाहर नहीं जाएगी
-अगर किसी स्थानीय मुद्दे से जूझ रहे हैं तो उसे हम सुलझाएंगे
-मैं खुद समस्या सुलझने तक मॉनीटर करूंगा
loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here