पति की इतनी सी बात पर पत्नी पहुंच गई पुलिस के पास, फिर क्या हुआ…

0
32
पति पत्नी के रिश्तों की नींव उनके आपसी सहयोग और विश्वास पर टिकी होती है। रिश्तों के इस ताने-बाने को सहेजे रखने के लिए दोनों को एक दूसरे की भावनाओं को समझना उसकी कद्र करना बेहद जरुरी होता है। कभी-कभी दोनों के बीच एक छोटी सी बात से रिश्तों के नाजुक डोर टूटने के कगार पर पहुंच जाते हैं और कभी-कभी तो रिश्ते टूट ही जाते हैं। इसलिए समझना ये जरुरी है कि पति-पत्नी के बीच के रिश्तों को कैसे सहेजा जाए।
अच्छे दंपति आज भी करते हैं भावनाओं की कद्र
लेकिन आधुनिक शैली में जीने वाले दंपति अब इन बातों पर जरा कम गौर फरमाते हैं। लेकिन जो अच्छे दंपति हैं आज भी भावनाओं के जरिए एक दूसरे को पूरा सपोर्ट करते हैं और रिश्तों की गर्माहट को बरकरार रखते हैं। आज के दौर में अब इन रिश्तों के बीच मोबाइल फोन आ गया है जो अक्सर विवाद का कारण बन रहा है। अगर हाथ में मोबाइल है तो दंपतियों के बीच संवाद मुश्किल से ही हो पा रहा है जो झगड़े का कारण बन जा रहा है। ऐसा ही एक मामला सामने आया है।
मोबाइल बन रहा पति-पत्नी के बीच तनाव की वजह
दरअसल एक दंपति के बीच मोबाइल फोन दोनों के बीच की दूरियां बढ़ रहा है। एक छोटी सी बात दोनों के बीच तनाव का कारण बन गया। बात केवल इतनी सी थी कि पति ने अपने मोबाइल में पासवर्ड लगा रखा था और वह इसे अपनी पत्नी को नहीं बता रहा था। इस बात से पत्नी नाराज थी कि आखिर मेरे पति मुझे पासवर्ड क्यों नहीं बताना चाहते हैं। इसके बाद पत्नी ने जो कहा वह अच्छे खासे रिश्तों को तार-तार करने के लिए काफी है। पत्नी ने कहा, मुझे अपने पति पर शक है।
पत्नी ने पुलिस को बताया मुझे पति पर शक है
पत्नी ने अपने पति की इस बात को लेकर पुलिस के पास पहुंच गई, शिकायत में उन्होंने कहा मुझे अपने पति पर शक है, और शक की वजह मोबाइल का पासवर्ड। पत्नी की शिकायत के उपरान्त दोनों के बीच की इस नासमझी को दूर करने के लिए काउंसलर बुलाया गया जिसने दोनों को समझाया कि रिश्तों को बरकरार रखने के लिए एक दूसरे पर भरोसा बेहद जरुरी है।
पति अपने मोबाइल का पासवर्ड नहीं बता रहा
इस बारे में परिवार परामर्श केन्द्र की प्रभारी संध्या रावत ने बताया कि मंगलवार को पति-पत्नी को काउंसलिंग के लिए बुलाया गया था। काउंसलिंग के दौरान दंपति ने बताया की उनकी ये दूसरी शादी है। महिला शिक्षिका है जबकि पति एक दवा विक्रेता है। महिला का आरोप है कि पति अपने बारे में जानकारियां उससे छिपाता है। अपने मोबाइल का पासवर्ड भी नहीं बताता है। इसी बात को लेकर काउंसर रितु नारंग ने तीन घंटे काउंसलिंग की।
पति जीवन में निजता चाहता है
काउंसलिंग के दौरान पति ने बताया कि वह अपने जीवन में कुछ निजता चाहता है, यही वजह है कि उसने पत्नी को पासवर्ड नहीं बताया। काउंसलिंग के बात तय हुआ कि रिश्ते में आ रही इस दरार को भरने के लिए वह मोबाइल का पासवर्ड अपनी पत्नी को बताएगा। इसके बाद दंपति एक साथ रहने को राजी हो गए।
काउंसलिंग के बाद पति-पत्नी राजी
दवा विक्रेता ने बताया कि वह अपने जीवन में कुछ निजता चाहता है, जिस वजह से पत्नी को मोबाइल का पासवर्ड नहीं बताना चाहता है। काउंसलिंग के बाद यह तय हुआ कि अपने दांपत्य जीवन को बचाने के लिए पति अपने मोबाइल का पासवर्ड पत्नी को बताएगा, दंपती साथ-साथ रहने के लिए राजी हो गए हैं।
loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here