21 हजार फर्जी अकाउंट, एक बैंक ऐसा भी कर सकता है

0
29
एक बैंक ऐसा भी कर सकता है, अपने चहेतों को खुश करने के लिए ऐसा काम जिससे कारण लोगों का सारा पैसा मार दिया जाए। पैसा सुरक्षित हो इसके लिए लोगों का सबसे बड़ा भरोसा बैंकों पर ही होता है। लेकिन जब बैंक की करतूतों को देखा जाता है तो बैंको से भरोसा उठने लगता है लेकिन लोग करें भी तो क्या, बैंक के अलावा और कहां जाएं, लेकिन बैंकों की ऐसी करतूतों की जड़ें काफी गहरी हैं जो लोगों के जाने बगैर उनका नुकसान कराती रहती हैं। ऐसा ही एक मामला पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक में सामने आया है। इस बैंक की करतूत जानकर बैंक के खाता धारकों की नींद उड़ गई है।
21 हजार फर्जी अकाउंट
पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक ( PMC) को लेकर पुलिस में कई शिकायतें दर्ज कराई गई हैं। पुलिस की सघन जांच में लगातार इस बैंक की करतूतें लोगों के सामने आ रही हैं। पुलिस में दर्ज एक शिकायत के मुताबिक PMC बैंक ने लोन को छिपाने के लिए 21 से ज्यादा फर्जी खाता बना डाले थे। इस शिकायत के बाद जांच एजेंसियों के भी पैरों तले जमीन खिसक गई, इस ताजा बैंकिंग फ्रॉड ने देश के जमाकर्ताओं और निवेशकों को हिला दिया है।
अबतक का सबसे बड़ा बैंकिग फ्राड
रॉयटर्स के मुताबिक, मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा द्वारा सोमवार को एक शिकायत दर्ज कराई गई। इस शिकायत को जानकर आर्थिक अपराध शाखा ने बताया है कि यह अबतक का सबसे बड़ा बैंकिग फ्राड का मामला है। शिकायत के अनुसार बैंक के प्रबंधक पर नॉन परफार्मिंग एसेट्स को छुपाने के और कम से कम 4,355.66 करोड़ रुपए लोन का वितरण करने का आरोप लगाया गया है। शिकायत के अनुसार, एक अकेली फर्म और उसकी समूह की कंपनियों को 44 लोग दिए गए।
रिजर्व कैश 1000 करोड़, लोन दिया 2500 करोड़
दरअसल PMC बैंक का रियल एस्टेट फर्म हाउसिंग डेवेलपमेंट ऐंड इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड पर तकरीबन 2500 करोड़ रुपए लोन का बकाया है। दिवालिया हो चुकी HDIL कंपनी पर बकाए इस लोग को बैंक ने आरबीआई के गाइडलाइंस के अनुसार एनपीए में नहीं डाला गया। आरबीआई गाइडलाइंस के अनुसार ऐसे मामलों में बैंक को लॉस का जिक्र करना चाहिए। लेकिन PMC बैंक ने ऐसा नहीं किया इसके अलावा PMC का कैश रिजर्व ही कुल 1,000 करोड़ रुपये का है, जबकि कंपनी पर उसका 2,500 करोड़ रुपये का लोन बकाया है।
आरबीआई ने कसी लगाम
बैंक की इस करतूत का खामियाजा अब यहां के खाताधारकों को भुगतना पड़ रहा है। आरबीआई ने इस बैंक खाते से पैसे निकालने की सीमा भी तय कर दी है। अब यहां के खाताधारक 10,000 रुपए छह माह में निकाल सकते हैं, पहले यह राशि एक हजार रुपये थी।केंद्रीय बैंक ने पीएमसी बैंक को नया लोन नहीं देने का भी निर्देश दिया है।
loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here